what are the causes of having body pain

इंसानों में शरीरिक दर्द या मासपेशियों में दर्द होना एक बड़ी समस्‍या होती जा रही है। ज्‍यादा देर व्‍यायाम कर लेने से या फिर घर में रखी कोई भारी चीज़ को उठा लेने से शरीर में किसी एक भाग में दर्द होने की शिकायत अक्‍सर बहुत से लोग करते हैं और सही से काम ना कर पाने की बात करते है, आजकल जिसे देखो वो थकान वा दर्द की बात करता रहता हैं.

इंसानों में शरीरिक दर्द या मासपेशियों में दर्द होना एक बड़ी समस्‍या होती जा रही है. ज्‍यादा देर व्‍यायाम कर लेने से या फिर घर में रखी कोई भारी चीज़ को उठा लेने से शरीर में किसी एक भाग में दर्द होने की शिकायत अक्‍सर बहुत से लोग करते हैं कुछ लोग हर वक़्त जोड़ो में और बदन दर्द का रोना रहते हैं, जिसके कारण वो कोई भी काम सहीतरह से करने में सक्षम नहीं हो पाते हैं.

दर्द कई प्रकार के होते हैं  जैसे पीठ, गर्दन, घुटनों या मासपेशियों का होता है. दूसरे प्रकार के दर्द में तंत्रिका तंत्र प्रभावित हो जाती है और इससे दर्द होने लग जाता है. इस तरह के दर्द को न्‍यूरोपैथिक पेन बोलते हैं.

बदन दर्द होने के यह ह सकते हैं कारण:

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एचआईवी ऐड्स

ऐड्स होने से शरीर की प्रतिरोधक छमता कम हो जाती है यह एक जानलेवा बीमारी हैं जिसमे शरीर में दर्द होना एड्स का एक लक्षण है इसीलिए आप इसकी जाच ज़रूर करवा लें.

हर्पीज़ :

यह एक प्रकार का चर्म रोग यह एक वायरल रोग है, जिसमें पूरे शरीर में लगातार दर्द होता रहता है और बहुत ज्यादा तकलीफ बनी रहती हैं.

मधुमेह:

पेट की परेशानी के साथ साथ पैरों में दर्द होना आम बात होती है.  यह लगातार दवाई लेने से और व्‍यायाम करने से सही हो जाता है और मधुमेह में भी शरीर इ दर्द होता रहता हैं.

गठिया:

यह बिमारी आजकल आम हो गयी हैं पहले झा ज्यादा उम्र के लोगो को यह समस्या होती थी आज वही जिसे देखो वो इसकी चपेट में हैं. गठिया की बीमारी बहुत आम सी है, इसमें पूरे जोड़ में दर्द होता है और शरीर दर्द से पीड़ित रहता हैं.

फाइब्रोमेल्‍जिया:

इस बीमारी में शारीरिक दर्द के साथ थकान और अनिंद्रा होती है. इसमें शरीर कड़ा हो जाता है और ऐठन बनी रहती हैं.

लगातार थकान:

इस बीमारी में शरीर की एनर्जी खतम हो जाती है और शरीर में थकान वास करने लग जाती है. जिससे हरवक्त नींद आती रहती हैं और इस कारण से शरीर में दर्द होना शुरु हो जाता है.

तनाव:

बहुत कम लोगों को पता है कि तनाव लेने से भी सिरदर्द होने लगता है. इसके अलावा नींद पूरी ना करना, थकान, मासपेशियों में दर्द और सीने में दर्द की वजह से भी तनाव हो जाता है जिससे बदन दर्द बना रहता हैं.

टीबी :

वैसे तो टीबी फेफड़ों की समस्‍या है लेकिन इसमें भी शरीर दर्द होने लग जाता है, जिससे आपके शरीर में हर वक़्त दर्द बना रहता हैं.

गांठ:

यह भी एक कारण शरीर में दर्द होने का यदि शरीर में कोई गांठ हो तो इम्‍मयून सिस्‍टम शरीर की सेल्‍स और टिशू पर वार करने लग जाता है. इस कारण से सूजन और टिशू डैमेज होने लग जाता है.

वायरल आंत्रशोथ:

यह बीमारी इंफेक्‍शन से होती है, जिस कारण से डायरिया और उल्‍टी की परेशानी हो जाती है इसके साथ ही इसमें शारीरिक दर्द भी पैदा होने लगता है.

आमवातीय संधिशोथ:

इसमें छोटे-मोटे जोड़ों जैसे उंगलियों के जोड़ों में दर्द आरंभ होकर यह कलाई, घुटनों, अंगूठों में बढ़ता जाता है और इस बीमारी के बढ जाने पर यह पूरे शरीर के कार्य करने की क्षमता को रोक देती है.

डेंगू बुखार:

यह बुखार वायरस से पैदा होता है. इसमे बुखार आ जाता है और सारी मासपेशियों और जोड़ों में दर्द शुरु हो जाता है जिसमे दर्द सालो साल बना रहता हैं इसके अलावा सिरदर्द भी चालू हो जाता है

पोटैशियम की कमी:

अगर आपके शरीर इ पोटाशियम की कमी हैं तो इसे हाइपोकैलीमिया भी कहा जाता है, जिसमें खून से पोटैशियम की कमी हो जाती है और इस वजह से शरीर में दर्द होने लग जाता है.

टॉक्‍सोप्‍लासमोसिस:

अगर आपको बिल्लियाँ पालने का शौक हैं तो हो सकता हैं आपको इस कारण दर्द हो आप यह सुनकर हैरान होंगे लेकिन यह सच हैं यह बीमारी बिल्‍लियों से मानव तक पहुंचती हैं. इसमें भी शारीरिक दर्द पैदा होता है

अत्‍यधिक व्‍यायाम:

बहुत ज्यादा भारी वेट और बहुत ज्यादा व्यायाम करने के कारण भी मासपेशियों का दर्द और जोड़ों का दर्द तब पैदा हो सकता है जब आप जरुरत से ज्‍यादा व्‍यायाम करने लग जाते हैं.

Here we are talking about the main causes of having pain in body if you are dealing with this read this article and find out the reason of body pain.

web-title: what are the causes of having body pain

keywords: body pain, symptoms, causes, diseases, tips