Friday, October 22, 2021

 

 

 

यूपी में टॉर्च की लाइट में मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया, सीएमओ निलंबित

- Advertisement -
- Advertisement -

उन्नाव: सोमवार रात नवाबगंज के एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों ने 32 मरीजों की आँखों का ऑपरेशन टॉर्च की रौशनी में किया. जिसके चलते उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने मंगलवार को चीफ मेडिकल ऑफिसर(CMO) राजेंद्र प्रसाद को निलंबित कर दिया.

मामले पर बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि “मामले को गंभीरता से लेते हुए राज्य सरकार ने तुरंत कार्रवाई की और राजेंद्र प्रसंद को सीएमओ पद से भी हटा दिया गया है.”

मंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी को भी निलंबित किया है. वहीँ स्वास्थय विभाग ने जल्द से जल्द पूरे मामले की रिपोर्ट तैयार करने की मांग की है. खबरों की मुताबिक नवाबगंज सामुदायिक केंद्र के डॉक्टरों ने मरीजों का ऑपरेशन करते वक़्त लापरवाही बरती है, यहीं नहीं पहले टॉर्च की लाइट में मरीजों का ऑपरेशन किया गया फिर अस्पताल के ठंडे फर्श पर लेटाया गया.

ऑपरेशन करते वक़्त अस्पताल में ना तो लाइट थी और न ही जेनरेटर का प्रबंध किया गया था. वहीँ मरीजों का कहना की अस्पताल की में मरीजों को किसी तरह की सुविधा मुह्हाया नहीं करायी जा रही है, जिसके चलते उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

 इससे पहले  भी गोरखपुर के एक सरकारी अस्पताल में 60 से ज्यादा बच्चों की मौत हुई थी. उत्तर प्रदेश को कई ‘चिकित्सा आपदाओं’ का सामना करना पड़ रहा है. फरुखाबाद में एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की वजह से  49 मौतें हुई थी, जिनमे नवजात आईसीयू में 30 और प्रसव के दौरान 19 मौतें थी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles