राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने तुर्की के नागरिकों को फ्रांस के सामान खरीदने के खिलाफ चेतावनी दी है। अंकारा में एक टेलीविज़न भाषण में उन्होने कहा, “मैं अपने लोगों से आह्वान करता हूँ “फ्रांसीसी-लेबल वाले सामानों को कभी भी न खरीदे।”

यूरोप में बढ़ती इस्लामोफोबिया पर एर्दोगन ने कहा कि इस्लाम और मुसलमानों के बीच दुश्मनी कुछ यूरोपीय देशों में राज्य की नीति बन गई है। विश्व नेताओं को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा: “यदि फ्रांस में उत्पीड़न होता है, तो मुसलमानों की रक्षा करें।

उन्होने कहा, “यूरोपीय राजनेताओं को फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रॉन के नेतृत्व वाले घृणा अभियान के लिए ‘रोक’ कहना चाहिए।” इससे पहले एर्दोगन ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रॉन को दिमागी बीमार बताते हुए इलाज की सलाह दी थी।

एर्दोगन ने शनिवार को कहा कि मैक्रोन को मुस्लिमों के साथ एक समस्या है और उन्हें मानसिक जांच की जरूरत है। जिसके एक दिन बाद उन्होंने कहा “मैक्रोन ने अपना दिमाग खो दिया” – इस टिप्पणी के बाद अब फ्रांस ने अंकारा से अपने राजदूत को वापस बुला लिया।

फ्रांस के साथ बढ़ते तनाव के कारण लीरा में गिरावट देखी जा रही है। शुक्रवार को 7.9650 के करीब से लीरा 1 प्रतिशत से अधिक कमजोर होकर 8.0670 के स्तर पर आ गई और उभरते बाजार के लोगों के बीच यह सबसे खराब प्रदर्शन था। इस वर्ष इसका मूल्य 26 प्रतिशत घट गया है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano