gagha kand 5 620x330

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपने क्षेत्र गोरखपुर में खलिहान की जमीन पर अवैध कब्जे का विरोध कर रहे दलितों को पुलिस की गोलियां खानी पड़ी है. जिसमे तीन लोग घायल हो गए है.

दलितों का आरोप है कि पुलिस ने, जमीन कब्जा करने वाले दबंगों के साथ मिलकर उनकी पिटाई की जिससे गु़स्सा फूटा. दरअसल, थाने में दलितों को पीटे जाने की जानकारी होने पर बड़ी संख्या में दलित लोग थाने पहुंच गए और थाने पर पथराव किया.

पुलिस ने पहले लाठीचार्ज किया और फिर फायरिंग की. पुलिस रबर बुलेट चलाने की बात कर रही है जबकि ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस की गोली से जित्तु, दीपक और भोलू घायल हुए है. इन तीनों को इलाज के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर भर्ती कराया गया है.

जानकारी के अनुसार, फायरिंग में 12 वर्ष के दीपक को जंघे में गोली लगी. गोली उसके जंघे में फंसी है जबकि 18 वर्षीय भोलू के पैर में गोली लगी. 65 वर्षीय जित्तू को भी गोली लगी है. लाठीचार्ज में भी ग्रामीण घायल हुए हैं.

ग्रामीणों ने बताया, गगहा के एसओ खलिहान की जमीन कब्जा कर रहे दबंगों का सहयोग कर रहे थे। आज पुलिस ने ही इस मसले पर बातचीत के लिए दलितों को थाने पर बुलाया था. जब दलित थाने पहुंचे तो वहां पुलिस के साथ कब्जा कराने वाला दबंग भी मौजूद था. वहां उसने पुलिस की लाठी से दलितों को पीटना शुरू किया. पुलिस ने भी दलितों को थाने में पीटा.

gagha kand 4

इसकी जानकारी होने पर गांव से सैकड़ों की संख्या में दलित मौके पर पहुंचे और पिटाई का विरोध किया. इसको लेकर दोनों पक्षों में झड़प हुई. ग्रामीणों ने पथराव किया तो पुलिस ने फायरिंग की. ग्रामीणों का आरोप है कि दबंग व्यक्ति ने भी अपनी बंदूक से फायरिंग की.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें