1212222
SOURCE: Reuters
1212222
SOURCE: Reuters

इन दिनों आये दिन मुसलमानों पर हमलों की खबर मिलती रहती है. अब ऐसा ही एक और मामला सामने आया है जिसने दुनिया को हैरान कर दिया है. हर मुसलमान में मन में आज एक ही सवाल पैदा हो रहा है कि आखिर कब तक मुसलमानों पर यूं की ज़ुल्म-ओं-सितम किया जाएगा. अब मस्जिदों और मुसलमानों के बिज़नेस पर लगातार हमलें किये जा रहा है. जिसकी वजह से श्रीलंका में आपातकाल लागू कर दी गयी है.

कैंडी शहर के कुछ इलाकों में कर्फ़्यू लगा दिया गया है. कैंडी से मिल रही रिपोर्टों के मुताबिक़ बौद्ध धर्म को मानने वाले सिंहला लोगों ने मुसलमानों की दुकानों पर हमले किए और उन्हें आग के हवाले कर दिया.

आपको बता दें कि, एक जली हुई इमारत से एक मुस्लिम शख्स की लाश बरामद होने के बाद श्रीलंका में पुलिस कार्रवाही की जा रही है. एक हफ़्ते पहले ट्रैफिक रेड लाइट पर हुई मुठभेड़ के बाद कुछ मुसलमानों ने एक बौद्ध शख्स  के साथ मारपीट की थी. इस वारदात के बाद से श्रीलंका के पूर्वी शहर अमपारा में मुस्लिम विरोधी हिंसा हुई थी.

आपको बता दें कि, यह पहली बार नहीं है जब श्रीलंका में सांप्रदायिक हिंसा हो रही है. इससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आए है जिसकी वजह से देश का माहौल तनावपूर्ण रहा. श्रीलंका में साल 2012 से ही सांप्रदायिक तनाव बना हुआ है रिपोर्ट के मुताबिक, एक कट्टरपंथी बौद्ध संगठन (बीबीएस) इस तनाव को बढ़ावा देता रहता है.

srilanka
source: ANI

बीबीसी के मुताबिक, कुछ कट्टरपंथी बौद्ध समूहों ने मुसलमानों पर जबरन धर्म परिवर्तन कराने और बौद्ध मठों को नुक़सान पहुंचाने का आरोप लगाया. पिछले दो महीने के अंदर गॉल में मुसलमानों की मिल्कियत वाली कंपनियों और मस्जिदों पर हमले की 20 से ज़्यादा मामले सामने आ चुकें है.

इसी के साथ 2014 में कट्टरपंथी बौद्ध समूहों ने तीन मुसलमानों को मौत के घाट उतार दिया था जिसके बाद गॉल में दंगे भड़क गए. 2013 में कोलंबो में बौद्ध गुरुओं के नेतृत्व में एक भीड़ ने कपड़े के एक स्टोर पर हमला कर दिया था. आपको बता दें कि कपड़े की दुकान एक मुस्लिम की थी और हमले में कम से कम सात लोग घायल हो गए थे.

आपको बता दें कि, श्रीलंका की आबादी दो करोड़ दस लाख के क़रीब है और इसमें 70 फ़ीसदी बौद्ध हैं और सिर्फ 9 फ़ीसदी मुसलमान. लेकिन हाल के सालों में मुस्लिम समुदाय के ख़िलाफ़ धर्म के नाम पर हिंसा के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. पुलिस ने श्रीलंका में बढ़ती हिंसा के लिए बौद्ध गुरुओं को ज़िम्मेदार ठहराया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?