sana1

महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने मुंबई के निकट नालासोपारा से भारी मात्रा में विस्फोटक की बरामदगी के बाद अब शनिवार को पुणे से अवैध हथियारों का जखीरा बरामद किया है।

बता दें कि एटीएस ने कल गिरफ्तार वैभव राउत, शरद कालास्कर और सुधन्वा गोंधालेकर से कथित रूप से संबंधित कम से कम 16 लोगों से पूछताछ की। जिसके बाद पुणे में आज गोंधालेकर द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना के आधार पर छापेमारी की गयी। इस दौरान पुलिस को 11 देसी पिस्तौल, एक एयरगन, दस पिस्तौल की नाल, छह पिस्तौल की मैग्जीन, छह अधबनी पिस्तौल के अलावा बम बनाने की सामग्री जब्त की है।

डीसीपी धनंजय कुलकर्णी ने बताया, हमने इनके पास से देशी कट्टे, एयरगन, पिस्टल बैरल, ट्रिगर मैग्जींस, चापर और चाकू सहित काफी हथियार जब्त किए हैं। इसके अलावा पेन ड्राइव, सीडी, हार्ड डिस्क और वाहनों के नंबर भी जब्त किए गए हैं। कुलकर्णी ने बताया कि हम अब इसके मास्टरमाइंड का पता लगाने में जुटे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

atss

सूत्रों के अनुसार, आतंकवादी साजिश को इसी महीने में ही अंजाम देने वाले थे। आरोपियों ने इसके लिए मुंबई, पुणे, नालासोपारा, सातारा और सोलापुर में कई जगहों की रेकी भी कर ली थी। फिलहाल एटीएस यह पता लगाने में जुटी है कि एटीएस धमाकों के लिए विस्फोटक सामग्री कहां से लाई गई और इनका मास्टरमाइंड कौन है।

इस पूरे मामले में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बहुत सारी खुफिया सूचनाओं के बाद एटीएस ने यह ऑपरेशन शुरू किया है। फडणवीस ने कहा, ‘आरोपियों के पास से जो सामग्री बरामद की गई है वह बेहद खतरनाक है। किसी भी आतंकी या असामाजिक गतिविधि के लिए इसका दुरुपयोग हो सकता था। ऐसे में फिलहाल जांच जारी रहेगी और इसी जांच के आधार पर हम अपने उद्देश्य और लक्ष्य तक पहुंचेंगे।

Loading...