Monday, June 27, 2022

Prophet remark row : भारत सरकार के विरो’ध में एक साथ आये कुवैत के 30 सांसद

- Advertisement -

बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा की गई पैगंबर मोहम्मद साहब(PBUH) के ऊपर विवादित टिप्पणी कि आंच गल्फ कंट्रीज तक पहुंच गई थी इसके साथ ही पूरे अरब जगत ने इसका पुरज़ोर विरोध किया था लेकिन अगर आप यह सोच रहे हैं कि यह बात अब थम गयी है तो ऐसा नहीं है।

कुवैत सांसद में हालिया में 50 में से 30 सांसदों ने इस बात पर हस्ताक्षर किए हैं कि इंडिया पर दबाव बनाया जाए कि सरकार इस मुद्दे को लेकर सख्त एक्शन ले इसके साथ ही यूपी सरकार द्वारा प्रदर्शनकारियों के लिए की गई अवैध कार्रवाई की निंदा की गई है।

कुवैत टाइम्स की रिपोर्ट्स के अनुसार नेशनल असेंबली के 50 सांसदों में से 30 सांसदों ने इस बात पर हस्ताक्षर किया हुआ एक बयान जारी किया है, जिसमें भारत के प्रदर्शनकारी मुसलमानों पर हो रही पुलिसिया कार्रवाई की कड़ी निंदा की गई है और सरकार से सख्त एक्शन लेने की बात कही गयी है.

इसके साथ ही अरब टाइम्स ने भी इस रिपोर्ट को कवर किया है इस मुद्दे को लेकर अरब टाइम्स ने लिखा है की, ”कुल 30 सांसदोंएक साथ बयान में कहा है की पैग़ंबर मोहम्मद साहब (PBUH) पर की गयी टिप्पणी को लेकरउन्होंने आपत्ति जताई है और इसके साथ इन सांसदों ने कुवैत की अपनी सरकार और अन्य इस्लामिक देशों से भारत की सरकार पर राजनीति, राजनयिक और आर्थिक दबाव डालने की भी अपील की है.”

इसके साथ ही कुवैत इंस्टिट्यूट एंड लीगल स्टडीज़ के कैंडिडेट्स ने इन 30 सांसदों का साइन किया हुआ लेटर ट्वीट किया है.

 

 

इतना ही नहीं कुवैत टाइम्स ने यह भी बताया है कि हजारों की तादाद में सोशल एक्टिविस्ट जो सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं उन्होंने सरकार से खासकर गल्फ कंट्रीज के सरकार से यह बोला है कि हिंदुत्व का समर्थन करने वाले लोगों को बाहर निकाला जाए।

आपको बताते चलें कि करीब गल्फ कंट्रीज में 8000000 भारतीय रहते हैं जिसमें कई सारे हिंदू भी हैं उनका कहना है कि इसे पैगंबर मोहम्मद साहब के अपमान के पलटवार के रूप में यह काम करना चाहिए।

इसके साथ ही तीन सांसदों ने यह भी कहा है कि भारत की सरकार वह की पार्टी और उसके मीडिया ने उन्होंने पैगंबर मोहम्मद साहब (PBUH) का अपमान किया है इसके साथ ही उन्होंने बोला है कि जिस तरह की पुलिसिया कार्रवाई मुसलमानों हो रही है वो गलत है और इसकी कड़ी निंदा की है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles