प्रज्ञा ठाकुर ने किया हेमंत करकरे की शहादत का अपमान, पीएम मोदी हुए साथ खड़े

6:44 pm Published by:-Hindi News

मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुंबई हमले में शहीद पुलिसकर्मी हेमन्त करकरे की शहादत का अपमान करते हुए कहा था कि हेमंत ने मुझे गलत तरिके से फंसाया था, मैंने कहा था कि तुम्हारा पूरा वंश खत्म हो जाएगा। वो अपने कर्मों की वजह से मरें हैं। बता दें कि साध्वी प्रज्ञा साल 2008 में हुए मालेगांव विस्फोट में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर हैं।

इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद साध्वी प्रज्ञा के बचाव में आ गए हैं। दरअसल शुक्रवार को टाइम्स नाउ को दिए एक इंटरव्यू में पीएम मोदी ने साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी का बचाव किया। पीएम मोदी ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि “एक सभ्यता, जो बीते 5000 सालों से वसुधैव कुटुंबकम का संदेश दिया, उसे आतंकवाद के साथ जोड़ा गया!साध्वी प्रज्ञा की भोपाल से उम्मीदवारी एक ‘प्रतीक’ है, उनके लिए जिन्होंने यह किया। यह ‘प्रतीक’ कांग्रेस को भारी पड़ने वाला है।”

पीएम ने कहा कि ‘एक महिला, जो कि साध्वी है, उसे इतनी बुरी तरह से प्रताड़ित किया गया।’ पीएम मोदी ने सिख दंगों को लेकर कांग्रेस को घेरा और आरोप लगाया कि ‘अमेठी के सांसद और रायबरेली की सांसद भी जमानत पर बाहर हैं, लेकिन उनके बारे में कोई कुछ नहीं बोल रहा है!’

पीएम मोदी के बयान पर सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता घनश्याम तिवारी ने टाइम्स नाउ के साथ बातचीत में कहा पीएम के बयान पर तंज कसते हुए कहा कि “मैं प्रधानमंत्री जी को निवेदन करूंगा कि आप अपनी पार्टी का अगला टिकट बाबू बजरंगी, आसाराम बापू, राम रहीम को भी दीजिए। इसके अलावा तिहाड़ जेल में ऐसे लोगों की कमी नहीं है। इससे आपका राष्ट्रवाद पूरी दुनिया को दिखाई देगा कि आप कितने बड़े राष्ट्रवादी हैं! सपा प्रवक्ता ने कहा कि यदि आज गोडसे जिंदा होता तो शायद आप उसे भी टिकट देते।”

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें