manohar_650_061314122044-1

नई दिल्ली | देश के रक्षा मंत्री मनोहर परिकर ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ख़त लिखा है. ममता के सेना द्वारा संभावित तख्ता पलट करने के आरोपों पर परिकर ने कहा की इससे सेना के मनोबल पर असर पड़ता है. परिकर ने सेना को बेवजह विवाद में घसीटने पर काफी दुःख जताया. मनोहर परिकर ने गुरुवार को यह खत लिखा. इस ख़त के जवाब के ममता बनर्जी की और से अभी कोई प्रतिक्रिया नही आई है.

रक्षा मंत्री मनोहर परिकर ने  ममता बनर्जी को लिखे ख़त में कहा की मैं आपको यह ख़त , हाल फ़िलहाल में सेना द्वारा बंगाल और अन्य राज्यों के टोल नाको पर भारी वाहनों के अवागमन की कुछ सूचना एकत्र करने के लिए किये गए अभ्यास और उस पर पैदा हुए विवाद के सिलसिले में लिख रहा हूँ. यह अभ्यास 01 और 02 दिसम्बर को किया गया. सेना कई वर्षो से,  इस प्रकार के अभ्यास सम्बंधित राज्यों की एजेंसी से समन्वय करके करती आई है.

मनोहर परिकर ने आगे लिखा की मैं मीडिया में आपकी और से लगाए गए आरोपों से बेहद आहात हूँ. यदि आप अपने राज्य की सम्बंधित एजेंसी से बात करती तो आपको पता चलता की सेना और सम्बंधित एजेंसी के बीच क्या बात हुई? यहाँ तक की दोनों संस्थाओ ने मिलकर कई स्थानों को जॉइंट इंस्पेक्शन भी किया था. सेना देश की सबसे अनुशासित संस्थाओ में से एक है और हमें उनके पेशेवर और गैर राजनितिक व्यवहार पर गर्व है.

आपके आरोपों से सेना के मनोबल पर विपरीत असर पड़ सकता है. कम से कम मुझे आप जैसी शख्सियत से इस बात की उम्मीद नही थी क्योकि आपको सार्वजनिक जीवन का बहुत अनुभव है. सेना कभी भी बिना डॉक्यूमेंटेशन के कोई काम नही करती. सेना को उस स्थिति में डालना की उनको सबूत के तौर पर कागजात दिखने पड़े, उनके मनोबल को गिराने जैसा है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें