savitri bai phule 760 1522214633 618x347

उत्तर प्रदेश में बहराइच से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने SC/ST एक्‍ट को लेकर  पार्टी के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने पार्टी छोड़ बसपा में शामिल होने तक की धमकी दे डाली है.

पार्टी में दलितों पिछड़ों के साथ हो रही नाइंसाफी को लेकर वे एक अप्रैल को लखनऊ में रैली करेंगी. दरअसल वे एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर नाराज है.

इसी बीच सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर पुनर्विचार याचिका दाख़िल करने की अर्ज़ी को लेकर एनडीए के सभी दलित सांसद पीएम नरेंद्र मोदी से संसद में मुलाकात करेंगे.  बहराइच की सांसद ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि  पार्टी के भीतर आरक्षण को खत्म करने की साजिश चल रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सावित्री बाई फुले ने कहा कि इस सरकार में गरीब लोग खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं. बता दें कि ओम प्रकाश राजभर ने मंगलवार को अपनी पार्टी की बैठक बुलाई थी और वहां भी अपनी नाराजगी जताई.

पूर्वांचल में बीजेपी के कद्दावर नेता एवं पूर्व सांसद ने कहा कि पिछड़ों और दलितों को उनका सम्मान मिलना चाहिए, जो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नहीं दे रहे हैं. वो सिर्फ एक जाति पर ध्यान दे रहे हैं.

उपचुनाव परिणामों के बाद उन्होंने कहा था, ‘पिछड़े और दलितों को जिस तरह से फेंका जा रहा है, उसका परिणाम आज ही सामने आ गया है. मैं आज भी अपने दल को कहना चाहता हूं, अगर आप दलितों और पिछड़ों को साथ लेके चलेंगे तो 2019 में संतोषजनक स्थिति बन सकती है.’