lohia trust

समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव और समाजवादी सेक्युलर मोर्चा गठित करने वाले शिवपाल सिंह यादव लंबे समय बाद एक साथ दिखाई दिये। इस दौरान शिवपाल ने उम्मीद जताई कि मुलायम सिंह यादव समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के टिकट पर अगला लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।

शिवपाल सिंह यादव ने ये भी कहा कि वह समाजवाद के प्रणेता राम मनोहर लोहिया की विचारधारा को आगे बढ़ाएंगे और भाजपा से किसी भी तरह का कोई समझौता नहीं करेंगे। शिवपाल ने लोहिया की पुण्यतिथि पर लोहिया ट्रस्ट में आयोजित कार्यक्रम में कहा,‘‘हम लोहिया की विचारधारा को आगे बढ़ाएंगे। हम साम्प्रदायिकता से लड़ेंगे और भाजपा से हमें कोई समझौता नहीं करना है। हमारी लड़ाई भाजपा से ही है।’’

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद अपने साथ होने का दावा करते हुए उन्होंने कहा ‘‘हमारी जिम्मेदारी है कि लोहिया के आदर्शों पर चलकर आगे बढ़ें। जब नेताजी (मुलायम) हमारे साथ हैं तो हम लोहिया के आदर्शों को लेकर एक नयी क्रांति करने का काम करेंगे। देश में परिवर्तन लाएंगे।’’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान मुलायम सिंह यादव ने कहा कि गलत काम का विरोध होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर भाई भी अपने छोटे भाई के साथ अन्याय करे तो उसका विरोध करो। उन्होंने कहा कि यह लोहिया जी की विचारधारा थी और मैं भी इससे सहमत हूं। उन्होंने कहा कि अन्याय कहीं भी हो, परिवार में हो, गांव में हो, शहर में हो, विरोध करना चाहिये। लोहिया जी ने भी हमेशा न्याय का साथ दिया और हर जगह पर अन्याय का विरोध किया।

ध्यान रहे लखनऊ में रहने के बाद भी वह समाजवादी पार्टी के उस कार्यक्रम में नहीं गए थे, जिसमें भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा पधारे थे। इस कार्यक्रम का आयोजन जयप्रकाश नारायण की जयंती पर अखिलेश यादव ने किया था।

Loading...