phpthumb_generated_thumbnail

लखनऊ | उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा सियासी कुनबा टूट की कगार पर है. समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव के आगामी चुनावो के लिए जारी की गयी 325 उम्मीदवारों की लिस्ट से अखिलेश इतने नाराज है की वो अलग से 167 उम्मीदवारों की सूची जारी कर सकते है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुलह की सारी कोशिशे नाकाम हो चुकी है. समाजवादी पार्टी में बगावत होनी तय मानी जा रही है.

गुरुवार को एक बार फिर समाजवादी पार्टी में घमासान शुरू हो गया. चाचा शिवपाल सिंह यादव और भतीजे अखिलेश यादव के बीच उम्मीदवारों को लेकर खींचतान शुरू हो गयी. मुलायम ने जो लिस्ट जारी की है उसमे से अखिलेश के करीबियों के नाम गायब है. कुछ वर्तमान विधायक और मंत्रियो के भी टिकेट काट दिए गए है. ऐसे में अखिलेश ने मुलायम से मिलकर स्थिति स्पष्ट करने की कोशिश की.

गुरुवार दोपहर को अखिलेश मुलायम से मिले. उन्होंने मुलायम से ऐसे पुछा की आखिर उन उम्मीदवारों के टिकेट क्यों काटे गए जो जीत की गारंटी माने जा रहे थे और जिनकी जनता के बीच अच्छी पकड़ थी. मुलायम ने अखिलेश को बताया की शिवपाल के सर्वे में ये सभी लोग चुनाव हार रहे है इसलिए इनकी जगह अन्य को टिकेट दिया. सर्वे की बात पर अखिलेश ने सबूत दिखाने की बात की और अपने सर्वे की बात उनके सामने रखी.

मिली जानकारी के अनुसार मुलायम और अखिलेश की बातचीत का कोई समाधान नही निकला. ऐसे में अखिलेश के अगले कदम के बारे में चर्चा है की वो अलग से 167 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकते है. ये सभी निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे और अखिलेश इनके पक्ष में रेलिया भी करेंगे. हालाँकि अभी तक इसकी कोई अधिकारिक घोषणा नही हुई है. कुछ लोग इसे मुलायम पर दबाव बनाने के लिए उठाया गया कदम भी मान रहे है.

ताजा जानकारी के अनुसार अखिलेश यादव ने 235 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें