भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद पर शोषण का आरोप लगाने वाली लड़की को यूपी पुलिस ने राजस्थान के दौसा जिले से शुक्रवार सुबह बरामद कर लिया। जिसके बाद से उसे सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली ले जाया जा रहा है।

दरअसल, लड़की यूपी के शाहजहांपुर से गायब हुई थी। लड़की के पिता ने अपहरण का आरोप लगाया था लेकिन पुलिस का दावा है कि उसका अपहरण नहीं हुआ था। इस दौरान छात्रा ने एक वीडियो जारी करके बीजेपी नेता पर आरोप लगाया था।

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पेश वकील से कहा कि वह चिन्मयानंद के खिलाफ आरोप लगाने वाली महिला के ठिकाने की सटीक जानकारी दे। न्यायालय ने राज्य सरकार से यह भी पूछा कि महिला को अदालत में कब पेश किया जा सकता है?इस पर सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से कहा कि लड़की को आज ही अदालत में पेश करे।

बता दें कि छात्रा का वीडियो वायरल होने के बाद यह मामला सुर्खियों में आया था। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर योगी सरकार पर हमला बोला। उधर, छात्रा के पिता की शिकायत के बाद चिन्मयानंद के वकील ने भी अज्ञात पर पांच करोड़ की रंगदारी मांगने और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

वकील ने कहा था कि स्वामी चिन्मयानंद को साजिश के तहत बदनाम किया जा रहा है। वे निर्दोष हैं। हालांकि, स्वामी चिन्मयांनद का इस विषय में कोई बयान नहीं आया।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन