kerala priest muslims

तिरुवनंतपुरम : कुछ दिनों पहले इस सदी की सबसे भीषण बाढ़ का सामना कर चुके केरल में एक कैथोलिक पादरी ने गिरजाघर में शरण लेने वाले बाढ़ पीड़ितों को भोजन उपलब्ध कराने की नि:स्वार्थ सेवा को लेकर एक मस्जिद में मुसलमानों शुक्रिया अदा किया।

बता दें कि दो हफ्ते पहले राज्य में आई भीषण बाढ़ के दौरान 580 से अधिक लोगों ने अचिनकोम में एंटनी के गिरजाघर में शरण ली थी। इन बाढ़ पीडितों के लिए खाने-पीने की कुछ दिक्कत हो गई थी। जिसके बाद स्थानीय मुसलमानों ने उनकी मदद की थी।

पादरी ने अपने संबोधन में बताया, ‘मैं सीधे मस्जिद गया और मौलवी को मुश्किलों के बारे में बताया और उनसे मदद का अनुरोध किया। उस दिन की नमाज के बाद मुसलमान भाई ढेर सारी खाने-पीने की चीजों को लेकर गिरजाघर आए।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

1534733269 kerala floods12 pic

उन्होने कहा, मैं शब्दों में उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त नहीं कर सकता। खाद्य और पानी के अलावा मस्जिद से जुड़े युवाओं ने दवाइयों की व्यवस्था की।

बता दें कि इस बाढ़ में 483 लोगों की मौत हो गई है और संपत्ति का अनुमानित नुकसान 37,000 हजार करोड़ रुपये है जो राज्य की वार्षिक व्यय के बराबर है। इस दौरान राज्य के 14.5 लाख लोग 3,000 से ज्यादा राहत शिविरों में थे।

Loading...