दक्षिण के भूमध्य सागर में डूबी हुई शर्णार्थियों की नाव में से 110 लोगो के शव को लीबिया के समुन्द्र तट से बहार निकाला गया हैं. इसके साथ इस रेस्क्यू ऑपरेशन में ग्रीक के हेलिकॉप्टर्स, एयरक्राफ्ट, पट्रोल बॉट्स और पासिंग मर्चेंट शिप्स की सहायता से 340 लोगो की जाने भी बचा ली गयी है.

यूरोप की ओर बढ़ते हुए एक बेहतर जीवन की खोूज में निकले करीब 1000 से अधिक शर्णार्थियों की नाव पिछले शुक्रवार को दक्षिण के भूमध्य सागर में डूबी थी. जोकि एक कुदरती कहर हैं.

लीबिया में, कम से कम 117 शव जिसमे 75 महिलाएं, छह बच्चे और 36 पुरुष हैं. जिनको जवरा के पश्चिमी शहर के पास पानी से बाहर निकाला गया. मोहम्मद अल-मसराती, लीबिया के रेड क्रीसेंट के एक प्रवक्ता ने बताया, अनुमान है की सभी लोग अफ्रीकी देशों से थे और हमने अंदाज़ा लगाया था की मरने वालों की संख्या अधिक होगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अल-मसराती ने बताया की खोजकर्ताओं के लिए यह निर्धारित करना मुश्किल होगा की यह घटना कहा पर हुई. इसका कारण यह है की तेज़ हवाएं और समुंद्री लहरे शव को धक्का मारकर उनको एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचा देती हैं.
तो वही इस हादसे के बाद लीबिया के नौसेना अधिकारी गससिम ने टेलीफ़ोन के थ्रू कहा की यूरोप मरे हुए लोगो की गिनती कर रहा था और कुछ नहीं. बल्कि यूरोप यह प्रयास कर रहा था की इन गैरकानूनी तरीके से आ रहे शर्णार्थियों को कैसे रोक जाएँ.

 

 

Web-Title: Disaster in South Mediterranean 117 people succumbed

Key-Words: South Mediterranean, 117 people, Rescue operation, Libya