सत्र न्यायालय से जमानत याचिका खारिज होने के साथ ही न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ने बुधवार को कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी की न्यायिक हिरासत दो सप्ताह बढ़ा दी। फारुकी को 1 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था और वह 27 जनवरी तक सलाखों के पीछे रह सकते है।

दूसरी और उनकी जमानत पर उच्च न्यायालय में शुक्रवार को सुनवाई होने की उम्मीद है। भाजपा विधायक मालव गौड़ के बेटे एकलव्य गौड़ की एक शिकायत पर इंदौर में एक शो में हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने और धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में 28 वर्षीय फारुकी को चार अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया।

हालांकि शो में कथित टिप्पणी करने वाले फारुकी के खिलाफ कोई वीडियो सबूत नहीं है। सभी पांचों की जमानत की अर्जी खारिज कर दी गई है। इनमे खान और फारुकी के अलावा, नलिन यादव, प्रखर व्यास और प्रीतम व्यास शामिल हैं।

फारुकी के ससुर यूनुस बदर इमानी, 50, जो उनसे बुधवार को जेल में मिले थे, ने कहा कि उन्होंने पूछताछ की थी कि क्या उनकी बेटी उनके साथ बात कर सकती है। “लेकिन मुझे बताया गया था कि यह प्रावधान केवल उन लोगों के लिए उपलब्ध है जो तीन महीने से जेल में हैं,”

2 जनवरी को गिरफ्तारी का पता चलने के बाद से इंदौर में डेरा डाले हुए हैं। इमानी की तीन बेटियों में सबसे बड़ी की शादी फारुकी से हुई है।

Loading...
विज्ञापन