patil and laxmi

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के मतदान की गिनती जारी है. रुझानो के मुताबिक़ बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37 सीटें मिल रही है. ऐसे में स्पष्ट है कि किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है. हालांकि अब जेडीएस ने कांग्रेस से मिलकार सरकार बनाने का दावा पेश किया.

इस चुनाव में धुर्विकरण करने के लिए घृणास्पद बयान दिए गए. उनमे से एक बेलगावी (ग्रामीण) से भारतीय जनता पार्टी के विधायक संजय पाटिल भी शामिल थे. जिन्हें जनता ने नकार दिया. कर्नाटक चुनाव को हिन्दू-मुस्लिम मुद्दा बताने वाले बीजेपी विधायक हार गए.

उन्होंने कहा था कि कर्नाटक चुनाव में मुद्दा सड़क और पानी का नहीं, हिंदू और मुस्लिम का है. उन्होंने कहा था कि बाबरी मस्जिद बनाम राम मंदिर उनके लिए बड़ा मुद्दा है. वह राम मंदिर निर्माण के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं.

उन्होंने कहा था कि जो लोग बाबरी मस्जिद का निर्माण चाहते हैं और टीपू जयंती मनाते हैं, उन्हें कांग्रेस को वोट देना चाहिए. जो लोग राम मंदिर का निर्माण चाहते हैं और शिवाजी महाराज की जीत चाहते हैं, वे बीजेपी को वोट देंगे. इस बयान के लिए उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई थी.

कर्नाटक की जनता ने साफ़ कर दिया कि उनका मुद्दा हिंदू-मुस्लिम का नहीं है.लोगों को रोटी, कपड़ा और मकान जैसी बुनियादी जरूरत है. कांग्रेस प्रत्याशी ने न सिर्फ बीजेपी उम्मीदवार को हराया बल्कि दोगुने वोट हासिल कर करारी हार दी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?