am

उत्तरप्रदेश के अमरोहा मे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कैबिनेट के दो मंत्रियों की मौजूदगी मे महिलाओं ने स्थानीय भाजपा नेता की चप्पल-जूतों से जमकर पिटाई की। ऐसे मे मंत्री भी बीजेपी नेता को नहीं बचा सके।

am6

जानकारी के अनुसार, महिलाएं राशन डीलरों पर खाद्यान्न वितरण में धांधली की शिकायत करने पहुंची थी। लेकिन भाजपा नेता राशन डीलरों की तरफदारी करना शुरू कर दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

am5

इससे गुस्साई महिलाओं ने दोनों मंत्रियों के सामने ही मदन वर्मा पर गंभीर आरोप लगाते हुए उनको पकड़कर सभाकक्ष से बाहर खींच लाईं और कलेक्ट्रेट परिसर में उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। इससे उनके कपड़े भी फट गए।

am2

महिलाओं का कहना है कि गांव में तीन-तीन राशन की दुकान होने के बावजूद उन्हें न तो खाद्यान्न मिल रहा और न मिट्टी का तेल। राशन डीलर खाद्यान्न और मिट्टी के तेल की खुलेआम कालाबाजारी कर रहे हैं।

महिलाओं ने मदन वर्मा पर पात्र गृहस्थी की सूची में नाम शामिल कराने के लिए 5-5 सौ रुपये लेने का भी आरोप लगाया। इस संबंध में भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. ऋषिपाल नागर ने मदन वर्मा के साथ हुई मारपीट से पल्ला झाड़ लिया है।

am3

उन्होंने कहा कि मदन वर्मा के पास संगठन का कोई पद नहीं है। वह सिर्फ कार्यकर्ता हैं। उन पर लगे आरोपों की जांच कराई जाएगी।