बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने रविवार को आगामी विधानसभा चुनाव के चलते करमसद स्थित सरदार वल्‍लभ भाई पटेल के घर से ‘गुजरात गौरव यात्रा’ को शुरू किया. हालांकि इस दौरान उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा.

दरअसल बीजेपी ने पटेल समुदाय के लोगों को साधने के लिए ही सरदार पटेल के घर से यात्रा की शुरुआत की थी, लेकिन इसी यात्रा में उन्हें पटेलों के ही विरोध का सामना करना पड़ा. बीच भाषण के बीच कुछ युवको ने बीजेपी और अमित शाह के खिलाफ नारे लगाना शुरू कर दिए. हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें खदेड़ दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान अपने भाषण में अमित शाह ने कहा कि यह सरदार पटेल की धरती है, जिन्होंने देश को एक करने और किसानों के हितों के लिए आवाज उठाई. शाह ने कहा कि उनके द्वारा विकसित किए गए. यही गुजरात का गौरव है.

ध्यान रहे पटेल समुदाय पाटीदार आंदोलन के बाद से ही बीजेपी के खिलाफ हार्दिक पटेल के नेतृत्व में लामबंद हो रहे है. हार्दिक कह चुके है कि अगर बीजेपी मेरे पिता को भी चुनाव मैदान में उतारे तो उन्हें भी वोट मत देना.

सूबे में करीब 20 फीसदी आबादी और 70 सीटों पर पटेलों का ख़ासा प्रभाव है. ऐसे में सत्ता हासिल करने ने लिए पटेलों को हर पार्टी अपने पाले में करना चाहती है.

Loading...