Saturday, July 31, 2021

 

 

 

सभी राज्य सरकारें अपनी विधान सभाओं में पैगंबर मुहम्मद ﷺ बिल को करें पास: रज़ा एकेडमी

- Advertisement -
- Advertisement -

अजमेर: दरबार ए ख्वाजा ए गरीब नवाज में गुरुवार को हाजिरी देने के बाद रज़ा एकेडमी के प्रतिनिधिमंडल ने सभी राज्य सरकारों से विधानसभाओं से पैगंबर मुहम्मद ﷺ बिल को पास कराने की मांग की है। ताकि इस्लाम धर्म और पैगंबर मुहम्मद ﷺ के खिलाफ की जाने वाली अपमानजनक टिप्पणियाँ करने वालों को सख्त सज़ा मिल सकें।

इस दौरान तहफ्फुज ए नामुस ए रिसालत बोर्ड के महासचिव अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी साहब ने बताया कि रज़ा एकेडमी के प्रतिनिधिमंडल का राजस्थान दौरा राज्य की गहलोत सरकार से पैगंबर मुहम्मद ﷺ बिल को पास कराने की मांग को लेकर था। इस सबंध में राजस्थान सरकार में अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद से एक कामयाब मुलाक़ात हुई। उन्हे पैगंबर मुहम्मद ﷺ बिल की प्रति सौंप दी गई। उनसे मांग की गई कि वे तत्काल बिल को राज्य सरकार के जरिये विधान सभा के पटल पर रखे और इसे पास कराए।

वहीं मौलाना सय्यद मोईनूद्दीन अशरफ अशरफी अल जिलानी साहब ने कहा कि देश भर में हिन्दू-मुसलमान भाईचारगी के साथ रहना चाहता है। सदियों पुरानी गंगा-जमुनी तहजीब और सूफी संतों की शिक्षा पर चलना चाहता है। लेकिन कुछ असामाजिक तत्व देश के सांप्रदायिक सोहार्द को नष्ट करना चाहते है। ऐसे लोगों पर समय रहते सख्त कार्रवाई की आवश्यकता है। हर कोई चाहता है कि हमारा देश अमन और शांति के साथ तरक्की करें।

जियारत के दौरान मौलाना वलीउल्लाह शरीफी, मौलाना खलील-उर-रहमान नूरी, मौलाना अमानुल्लाह नूरी, मौलाना अब्बास रिज़वी, मौलाना इरफ़ान अलीमी, मौलाना ज़फ़रुद्दीन रिज़वी, कारी मुश्ताक तिघी और हाजी इमरान, दादानी रिज़वान अजमेरी तनवीर रज़ा फरीद संजारी इस्माइल रिज़वी शोएब मनिहार आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles