कांग्रेस ने एकबार फिर बैंकों से जुड़े कथित घोटालों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार मे ”लूटो और भाग जाओ” चर्चित शब्द बन गए है।

भारतीय स्टेट बैंक समेत कई बैंकों से 6,978 करोड़ रुपये का घोटाला करने वाले फरीदाबाद के एसआरएस समूह को लेकर उन्होने कहा, इस समूह की हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार से नजदीकी की वजह से समय रहते कोई कदम नहीं उठाया गया।

सुरजेवाला ने कहा कि जहां इस मामले के साजिशकर्ताओं में से एक अनिल जिंदल इस साल अप्रैल में गिरफ्तार किया गया, वहीं तीन अन्य आरोपियों, जेके गर्ग, पीके कपूर और प्रतीक जिंदल को देश छोड़कर भागने दिया गया।

सुरजेवाला ने कहा कि जिंदल के पीएम मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से करीबी संबंध थे। उन्होंने बताया कि जिंदल के खिलाफ फरीदाबाद पुलिस द्वारा धोखाधड़ी फर्जीवाड़े के कम से कम 22 मामले दर्ज किये गए थे।

रणदीप सुरजेवाला ने सरकार पर खराब वित्तीय हालत से गुजर रहे आईडीबीआई बैंक को खरीदने के लिए भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) पर दबाव डालने का भी आरोप लगाया। सुरजेवाला ने कहा कि एलआईसी के पॉलिसी धारक बैंक के नुकसान, एनपीए और अन्य देनदारियों का भुगतान करेंगे और सरकार विनिवेश के जरिये लाभ कमाएगी।

सुरजेवाला ने पत्रकारों से कहा, ”आर्थिक कुप्रबंधन और वित्तीय अव्यवस्था मोदी सरकार का चेहरा बन चुके हैं। जनता का पैसा लूटो और फरार हो जाओ, ये मोदी सरकार में चर्चित शब्द हो गए हैं।” उन्होंने कहा, ”इस देश के लोगों की जमा संपत्ति को लूटना और लुटवाना मोदी सरकार का रोज का काम है।
मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?