रामपुर : कांग्रेस पार्टी के अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री फैसल खान लाला के नेतृत्व में बीड़ी एवम कारचोब मज़दूरों का एक बहुत बड़ा सम्मेलन हुआ जिसे संबोधित करते हुये फैसल लाला ने कहा की सरकार कोई भी हो वो मज़दूरों के हक़ के लिये लड़ेंगे और उनको वाजिब हक़ दिलवाकर ही दम लेंगे,उन्होंने कहा की रामपुर एक आर्थिक रूप से पिछड़ा हुआ ज़िला है जहाँ पर रोज़गार के बहुत कम साधन है रामपुर में करीब 4 लाख लोग ऐसे है जो बीड़ी बनाकर,ज़री कारचोब कड़ाई बुनाई का काम करके अपने परिवार को पालते है जिसमे लगभग 60 प्रतिशत महिलाये शामिल है लेकिन मौजूदा हालतों में प्रदेश एवं केंद्र सरकारों द्वारा मज़दूरों के उत्थान के लिये चलाई जा रही किसी भी योजना के लाभ इन बीड़ी एवम ज़री का काम करने वाले श्रमिको को नही मिल पा रहा है जिसकी वजह से इनके सामने भुखमरी जैसे हालात पैदा हो गये है इनके हालातो को बेहतर बनाने के लिये हमारा एक प्रतिनिधि मंडल महामहिम राज्यपाल महोदय से भी मिला था जिसका संज्ञान लेते हुये राज्यपाल महोदय ने भी प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर अवगत कराया जिस पर मुख्यमंत्री जी ने भी संबंधित विभाग को कार्यवाही के आदेश दिये थे ! एक बार फिर से हम लोग बीड़ी एवम कारचोब कारीगरों के मुद्दों को जल्द से जल्द अमली जामा पहनाने के लिये यहाँ जमा हुये और तब तक ये लड़ाई जारी रहेगी जब तक मांगे पूरी नही हो जाती भारी संख्या में बीड़ी एवम कारचोब कारीगर मौजूद रहे, ज्ञापन के माध्यम से जिला अधिकारी महोदय को क्रमवार बिन्दुओं को अतिशीघ्र पूरा कराने को कहा गया जो निम्न है :
1.बीड़ी श्रमिको की मजदूरी और मज़दूरों की तरह 100 रुपये से बढ़ाकर 250 प्रति हज़ार की जाये.
2.ज़री एवम बीड़ी मज़दूरों के लिये सरकार की ओर से केंद्रीय चिकित्सालय की व्यवस्था है किंतु सरकारी डॉक्टरों द्वारा श्रमिको के कार्ड नही बनाये जा रहे है इसलिये सरकार की तरफ से केम्प लगाकर श्रमिक कार्ड बनाये जाये ताकि उन्हें सरकारी योजना का लाभ मिल सके.
3.जो श्रमिक केंसर जैसी घातक बीमारियों से ग्रस्त है उनके लिये अच्छे अस्पतालों में मुफ्त ईलाज की व्यवस्था की जाये.
4.चूंकि बहुत से श्रमिक पढ़े लिखे नही है इसलिये उनको बीमा योजना का लाभ नही मिल पा रहा है ऐसे में न सिर्फ उनका बीमा कराया जाये बल्कि तमाम सरकार की योजनाओं के बारे में जिला स्तर पर अभियान चलाकर श्रमिको को जागरूक भी किया जाये.
5.श्रमिको के बीपीएल कार्ड बनाये जाये.
6.जिन श्रमिको के पास रहने के लिये मकान नही है उन्हें सरकार की ओर से सरकारी आवास दिये जायें.
7.हस्तकला कारीगरों की ट्रेनिंग के लिऐ केंद्र द्वारा बनाई गई बिल्डिंग में रामपुर नगरपालिका द्वारा पुरानी रिक्शाये व कबाड़ आदि भर दिया गया है जिसको खाली कराकर हस्तकला कारीगरों को ट्रेनिंग सेंटर शुरू कराया जाये.
8.मज़दूरों के लिये पंचायत घर बनाया जाये.
9.प्राइवेट स्कूलों में कारचोब कारीगरों एवम बीड़ी मज़दूरों के बच्चो को मुफ्त शिक्षा दी जाये.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?