padm

padm

निर्देशक संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म ‘पद्मावती उर्फ़ पद्मावत’ को लेकर उत्तरप्रदेश की योगी सरकार से भी राजपूत समुदाय को बड़ा झटका लगा है. योगी सरकार ने फिल्‍म को उत्‍तर प्रदेश में रिलीज होने के लिए हरी झंडी दे दी है.

ध्यान रहे सेट्ल बोर्ड ऑफ फिल्‍म सर्टिफिकेशन (सेंसर बोर्ड) ने ‘पद्मावत’ को सर्टिफिकेट दे दिया है और अब यह फिल्‍म 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है. सर्टिफिकेट देने के विरोध में शुक्रवार को राजपूत करणी सेना के कार्यकर्तामुंबई के सेंसर बोर्ड के ऑफिस पर धरना देने पहुंचे लेकिन पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया.

राजपूत करणी सेना का कहना है कि फिल्‍म का सिर्फ नाम ‘पद्मावती’ से ‘पद्मावत’ करने से कुछ नहीं होगा और यह फिल्‍म इतिहास के साथ छेड़छाड़ करती है. आप को बता दे कि इससे पहले गोवा की बीजेपी सरकार भी फिल्म की रिलीज को अपनी मंजूरी दे चुकी है.

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि अगर सेंसर बोर्ड ने ‘पद्मावत’ को प्रमाणित कर दिया है तो गोवा सरकार को राज्य में फिल्म की रिलीज को लेकर कोई आपत्ति नहीं है. पर्रिकर ने कहा, “यदि उनके पास सेंसर प्रमाण-पत्र है, तो हमें कोई आपत्ति नहीं है. यदि कानून-व्यवस्था का कोई मुद्दा है, तो हम इसे देख लेंगे.”

हालांकि राजस्थान में फिल्म के प्रदर्शन को मंजूरी नहीं मिली है. राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान में ये फिल्म रिलीज नहीं होगी. वसुंधरा राजे ने कहा कि, मैंने पहले भी कहा था और ​अब फिर कह रही हूं, राजस्थान में यह विवादित फिल्म रिलीज नहीं होने दी जाएगी.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें