सनथ जयसूर्या पर आईसीसी ने लगाया दो साल का प्रतिबंध, नहीं कर रहे थे फिक्सिंग की जांच में सहयोग

श्रीलंका के पूर्व कप्तान और ऑलराउंडर सनथ जयसूर्या पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ने क्रिकेट की किसी भी गतिविधि में भाग लेने के लिए दो वर्ष का प्रतिबंध लगा दिया है। उन पर श्रीलंका में भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रही जांच में सहयोग न करने का आरोप है।

उन्हें आईसीसी केअनुच्छेद 2.4.6 (आईसीसी की जांच में सहयोग ना करना) और अनुच्छेद 2.4.7 (आईसीसी की जांच में बाधा डालना व सबूतों के साथ छेड़छाड़) के तहत दोषी पाया गया है। प्रतिबंध लगने के बाद अब जयसूर्या दो साल तक क्रिकेट से जुड़ी किसी भी गतिविधि का हिस्सा नहीं बन पाएंगे।

सनथ जयसूर्या अप्रैल 2016 से अगस्त 2017 तक श्रीलंका क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर रहे थे। इस दौरान श्रीलंका-जिम्बाब्वे के बीच हुए एक वनडे मैच में फिक्सिंग की शिकायत आई थी। एसीयू इसी की जांच कर रही थी। 1996 की वर्ल्ड कप विजेता श्रीलंका टीम के सदस्य जयसूर्या पर एसीयू की जांच के साथ सहयोग नहीं करना, जांच में बाधा डालना और इसमें विलम्ब करने जैसे आरोप लगे। जयसूर्या पर आईसीसी की धारा 2.4.6 और 2.4.7 (जांच में सहयोग ना करने) के तहत प्रतिबंध लगाया गया।

जयसूर्या ने यह स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने उस फोन को नष्ट करके भ्रष्टाचार निरोधक इकाई की जांच में बाधा डाली। इस फोन को आईसीसी साक्ष्य के तौर पर देख रही थी। आईसीसी ने कहा कि जयसूर्या ने दो वर्ष के प्रतिबंध को स्वीकार कर लिया है। हालांकि उन्हें संहिता के उल्लंघन पर पांच वर्ष की सजा नहीं दी गई क्योंकि उन्हें पिछले अच्छे बर्ताव को ध्यान में रखा गया। उनका प्रतिबंध 16 अक्तूबर 2018 से लागू होगा।

आईसीसी की जानकारी के अनुसार एसीयू अधिकारी एलेक्स मार्शल का मानना था कि जयसूर्या का यह फोन एक जनवरी 2017 से 22 सितंबर 2017 तक की अवधि के दौरान जांच में महत्वपूर्ण हो सकता है। मार्शल ने जांच टीम को जयसूर्या से दो फोनों की मांग करने को कहा गया था।

एसीयू ने 2017 में तीन अलग-अलग तारीखों 22, 23 सितंबर और पांच अक्तूबर को जयसूर्या से पूछताछ की थी। 22 सितंबर को जयसूर्या ने बताया था कि इस अवधि के दौरान उन्होंने दो फोनों का इस्तेमाल किया था लेकिन बाद की जांच में उन्होंने कहा कि उनके पास दो और फोन थे जो खो गए लेकिन दोनों ही फोन इस्तेमाल में नहीं लाए जा रहे थे।

विज्ञापन