twi

बॉलीवुड अभिनेत्री और राइटर ट्विंकल खन्ना ने सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले के खिलाफ कड़ी आलोचना की हैं जिसमे देश के सभी सिनेमा घरों में राष्ट्रगान को चलाये जाने की बात कही थी.

ट्विकंल ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया में लिखे ब्लॉग में कहा कि मैं यह बात समझ नहीं पा रही कि मेरे ऊपर उस वक्त भी जबरन देशभक्ति थोपने की कोशिश क्यों की जा रही है, जब मैं मनोरंजन के लिए थियेटर गई हूं.  उन्होंने आगे लिखा कि मैं खुद उन लोगों को मानती है जिनकी आंखों में राष्ट्रगान सुनते ही आंसू आ जाते है. साथ ही ट्विंकल ने लिखा कि मैं इतनी जोर से राष्ट्रगान गाती हूं कि बच्चे भी झेंप जाते है.

ट्विंकल लिखती हैं कि हर चीज के लिए अपनी एक मुफीद जगह होती है. उन्होंने लिखा कि जह वाघा बॉर्डर पर परेड होती है, तो मुंह से ‘जय हिन्द’ खुद निकल जाता है. ट्विंकल ने लिखा है कि वाघा पर जब पाकिस्तानी लोग अपने नारे लगाते हैं, तो हमारे अंदर भी देशभक्ति उबाल मारती है. इसके लिए किसी को कहने की जरूरत नहीं पड़ती है.

ट्विंकल खन्ना ने लिखा, ‘मैं अभी यह बात नहीं समझ पा रही हूं कि मुझ पर उस वक्त भी क्यों जबरन देशभक्ति थोपने की कोशिश की जा रही है जब मैंने ‘बेफिक्रे’ जैसी फिल्म की टिकट खरीदी है और मैं रणवीर सिंह को टाइट रेड अंडरवियर में देखने जा रही हूं.’


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें