बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री और अपनी बेबाकी के लिए जानी जाने वाली शबाना आजमी ने पद्मावती विवाद को लेकर कहा कि भारत अति राष्ट्रवाद का सामना कर रहा है. ऐसे में लोगों को इसके प्रति सजग होने की जरूरत है.

टाइम्स लिटरेचर फेस्ट में एक परिचर्चा के दौरान शबाना ने कहा, ‘राष्ट्रभक्ति खुद को किसी भौगोलिक क्षेत्र में रहने वाले लोगों के जीवन से जोड़ती है और इसके साथ ही उनके जीवनस्तर में बेहतरी का भी ध्यान रखती है. इसलिए आप बेहद राष्ट्रभक्त हो सकते हैं पर इसके साथ ही साथ आप समाज के कुछ खास मुद्दों को लेकर आलोचनात्मक रुख भी रख सकते हैं. ऐसे में किसी भी तरह से यह आपको गैरराष्ट्रभक्त नहीं बनाता.

उन्होंने कहा कि ‘अब हम जो देख रहे हैं (देश में) वह अति राष्ट्रवाद है और यह ऐसी चीज है जिसके बारे में सतर्क होना चाहिये. यह हमेशा से रही है. (और) संस्कृति और कला पर हमेशा हमला होता रहा है क्योंकि ये जिसका प्रतिनिधित्व करते हैं उससे देश की छवि परिभाषित होती है.’

शबाना ने कहा, कला की आलोचना में कोई बुराई नहीं है लेकिन इस तरह किसी को जान से मारने की धमकी देना गलत है. दीपिका को जान से मारने की धमकी देना किसी भी रूप में सही नहीं है. उन्होंने कहा कि बतौर अभिनेत्री, सहकर्मी मुझे लगता है कि आज जितना बुरा दौर है, उतना कभी नहीं था.

शबाना ने कहा, “कला का मतलब सुंदरता दिखाना या लोरी सुनाना नहीं है. यह हमारी आवाज बुलंद करने के लिए भी है. यह विरोध जताने योग्य बनने के लिए भी है, यह उकसाने के लिए भी है. कला का मतलब सिर्फ मनोरंजन करना नहीं, संतुष्ट करने के लिए नहीं बल्कि उकसाने के लिए भी है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?