पिछले काफी दिनों से रजनीकांत के राजनीति में आने को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है. ऐसे में बताया जा रहा हैं कि बीजेपी रजनीकांत को अपने तरफ लेने की फिराक में हैं. बावजूद इसके पार्टी के नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने रजनीकांत को महामूर्ख और अनपढ़ करार दिया है.

एक कार्यक्रम के दौरान सुब्रमण्यन स्वामी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ‘रजनीकांत महामूर्ख है और अनपढ़ है…भारत और पाक का संविधान उसके सामने रखोगे तो उसे पता नहीं चलेगा कि कौन सा किस देश का है. रजनीकांत ने हाल में कहा था कि राजनीति में आने की उनकी कोई इच्छा नहीं है, लेकिन अगर वह राजनीति में आएंगे तो पूरे सिस्टम को सही करने की कोशिश करेंगे.

उन्होंने कहा था,  राजनीतिक सिस्टम के खिलाफ हूं, किसी नेता के नहीं. हमारे पास एमके स्टालिन, अंबुमणि (रामदास) और सीमन जैसे अच्छे नेता हैं लेकिन जब राजनीतिक सिस्टम ही खराब हो और लोकतंत्र में गिरावट आ गई हो तब हम क्या करें? इस व्यवस्था में बदलाव लाने की जरूरत है और लोगों की मानसिकता में बदलाव लाने की जरूरत है. तभी यह देश फलेगा-फूलेगा.’

सुब्रमण्यन स्वामी ने दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु विश्वविधालय जेएनयू का नाम बदल कर सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी करने की मांग की साथ ही उन्होने कहा कि जवाहर लाल नेहरु के नाम पर जब इसमें संविधान नही पढ़ा जा रहा तो इसका नाम बदल दिया जायें

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?