भारत के सुपरस्टार क्रिकेटर और आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी कर रहे गौतम गंभीर ने उन्नाव और काठुआ बलात्कार मामले में देश को सिस्टम को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उन्नाव और कठुआ में भारत की आत्मा का बलात्कार हुआ है.

गंभीर ने पहले ट्वीट में कहा, ‘भारत की आत्मा का पहले उन्नाव और फिर कठुआ में रेप हुआ। गंदे सिस्टम के गलियारे में इसकी हत्या हो रही है. जागो मिस्टर सिस्टम! ऐसे दोषियों को सजा देने की हिम्मत दिखाओ, मैं तुम्हें चुनौती देता हूं.’

वहीँ दुसरे ट्वीट में उन्होंने बलात्कारियों को बचाने के लिए प्रदर्शन करने वाले वकीलों को भी जमकर सुनाई. उन्होंने कहा, ‘शर्मा आनी चाहिए, खासकर उन वकीलों को जो कठुआ में पीड़ित की वकील को दबा और रोक रहे हैं. बेटी बचाओ से क्या अब हम बलात्कारी बचाओ हो गए हैं?’

वहीँ इस मामले में बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भी ट्वीट किया. सहवाग ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘दिल टूट चुका है और बोलने के लिए शब्द नहीं हैं. 8 साल की बच्ची के साथ क्या हो गया. ये इंसानियत की हत्या है. न्याय जरूर मिलना चाहिए.’

बता दें कि आठ साल की आसिफा आसिफा खानाबदोश मुस्लिम समुदाय से थी. उस बकरवाल समुदाय से, जो कठुआ में अल्पसंख्यक है. उसके साथ एक मंदिर में रिटायर्ड राजस्व अधिकारी सांजी राम उसके नाबालिग भतीजे सहित अन्य 6 लोगों ने बारी-बारी से बलात्कार किया और फिर पत्थरों से कुचल कर उसकी हत्या कर दी.

जम्‍मूू-कश्‍मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार (9 अप्रैल) को इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. इस दौरान वकीलों ने प्रदर्शन कर पुलिस को आरोप पत्र दाखिल करने से रोकने की कोशिश की.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?