नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने पुलवामा में शहीद परिवारों की मदद के लिए आगे हाथ बढ़ाया है. पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे जिसके बाद 28 वर्षीय मोहम्मद शमी ने शहीद जवान के परिवार के लिए आर्थिक मदद की है.

मोहम्मद शमी ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि भारतीय क्रिकेटर्स हमेशा अपने देश के जवानों के लिए खड़े रहेंगे, क्योंकि हम अपने देश का प्रतिनिधित्व तभी कर पाते हैं जब वो देश की सरहद पर हमारी सुरक्षा के लिए खड़े होते हैं.

Loading...

जानकारी के मुताबिक मोहम्मद शमी शहीदों की विधवाओं की मदद के लिए 2,51000 रुपये का चेक देंगे. वहीं जब मोहम्मद शमी से पाकिस्तान के साथ खेल संबंधों को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा,’ बीसीसीआई और भारत सरकार जो भी निर्णय लेगी भारतीय टीम उसके साथ है और उनकी ओर से दिए गए निर्देशों का पालन करेगी.’

इससे पहले ईरानी कप में जीत हासिल करने के बाद विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने भी शहीद के परिजनों को इनामी राशि देने के फैसला किया था. इसके साथ ही अन्य खिलाड़ियों के भी सामने आने की उम्मीद की जा रही है.वहीं सहवाग ने ट्वीट कर कहा था, ‘हम कितना भी करें वह कम होगा। लेकिन मैं अपनी ओर से इतना कर सकता हूं कि शहीद हुए हमारे बहादुपर सीआरपीएफ जवानों के परिवारों के बच्चों को झज्जर स्थित अपने सहवाग इंटरनैशनल स्कूल में मुफ्त शिक्षा देने की पेशकश करता हूं.’

इससे पहले शिखर धवन ने रविवार को टि्वटर पर एक विडियो पोस्ट करते हुए कहा, ‘मैं अपसे यही कहना चाहता हूं कि हमारे जो 40 जवान शहीद हुए हैं, इससे बहुत दुख पहुंचा है. उनके परिवार को जो नुकसान हुआ उसे तो पूरा नहीं किया जा सकता लेकिन मैंने सोचा कि मैं पैसे देकर उनके परिवार की मदद करूंगा और आपसे भी अनुरोध करता हूं कि जितना हो सके उनकी मदद करें. जिससे भगवान हमारे 40 भाइयों की आत्मा को शांति दे और उनके परिवार को आगे बढ़ाए. जय हिंद!’

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें