बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान अपनी संस्था ‘मीरा फाउंडेशन’ से तेजाब हमले की पीड़िताओं की मदद करते आ रहे है। वह उनको इलाज, कानूनी सहायता, पुनर्वास और व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करना आदि मदद प्रदान कर रहे है।

इसी बीच बुधवार को अपने इंस्टाग्राम पर शाहरुख ने वीडियो के माध्यम से सभी लोगों से एक बड़ी अपील की। उन्होने ऐसी बहादुर महिलाओं का समर्थन करने का आग्रह किया है। शाहरुख ने कहा कि “सुंदरता त्वचा में नहीं है, यह अक्सर कहा जाता है, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। हम सभी को अच्छे की जरूरत है, लेकिन हम दूर का सोचते हैं, हम अप्रिय चीजों को देखने में शर्माते हैं, इसके बावजूद हम अपने लिए सामाजिक स्वीकार्यता चाहते हैं, हम अंदर से पक्षपाती हैं, फिर भी हम सशक्तिकरण के लिए लड़ाई कर रहे हैं। हां, हम सबको बेहतर की जरूरत है, लेकिन हम दूर का सोचते हैं।”

इसी बीच शाहरुख ने बचपन में कैंसर से पीड़ित रहे बच्चों से मुलाकात की। शाहरुख ने इन बच्चों से मुलाकात अपने घर पर की। ये बच्चे मास्को में वर्ल्ड चिल्ड्रंस विनर्स गेम्स 2018 में हिस्सा लेने वाले हैं। इसलिए शाहरुख खान ने इन बच्चों को चैंपियनशिप के लिए शुभकामना देने के लिए अपने बंगले ‘मन्नत’ पर आमंत्रित किया था।

वर्ल्ड चिल्ड्रंस विनर्स गेम्स 2018 में हिस्सा लेने के तहत बच्चे शतरंज, फुटबाल, टेबल टेनिस, तैराकी और शूटिंग आदि खेलों में हिस्सा लेंगे। शाहरुख की आईपीएल टीम कोलकाता नाइट राइडर्स और मीर फाउंडेशन इन बच्चों को टूर्नामेंट के लिए जर्सी और किट भी मुहैया करा रहा है।

बता दें कि शाहरुख ने कई वर्षों पहले मीर फाउंडेशन की स्थापना भी कैंसर से पीड़ित लोगों के लिए की थी। यह फाउंडेशन शाहरुख खान के पिता की स्मृति में बनाया गया था जो खुद भी एक कैंसर पीड़ित थे।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें