दिल्ली हाई कोर्ट ने शुक्रवार को समाचार प्रसारण मानक प्राधिकरण (एनबीएसए) के रकुल प्रीत सिंह द्वारा विभिन्न समाचार चैनलों के खिलाफ दायर की गई शिकायतों के संबंध में कार्रवाई करने के बाद केंद्र से शुक्रवार को ताजा स्थिति रिपोर्ट मांगी, जिसमें अभिनेता रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ ड्रग्स मामले में उसकी कथित भूमिका के बारे में कथित रूप से फर्जी प्रसारण किया गया था।

न्यायमूर्ति नवीन चावला ने केंद्र की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल (एएसजी) चेतन शर्मा और वकील अजय दिग्पाल को मामले में एनबीएसए की रिपोर्ट के आधार पर नए सिरे से रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है। अदालत ने न्यूज ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी (एनबीएसए) से इस मामले में विभिन्न टीवी चैनलों के खिलाफ की गई शिकायतों पर रिपोर्ट मांगी है।

रकुल की ओर कोर्ट में उनका पक्ष उनके वकील अमन हिंगोरानी ने रखा। हिंगोरानी ने बताया कि कोर्ट के आदेश ऑनलाइन अपलोड कर दिए गए हैं। सात दिनों के अंदर ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन को मंत्रालय पहुंचना है। जी न्यूज चैनल के खिलाफ आदेश है। दूसरों के लिए खबर हटाने का आदेश है।

हिंगोरानी ने आगे बताया कि जस्टिस सीकरी द्वारा एनबीए के आदेशों के बाद क्या कार्रवाई हो रही है, वो 10 दिसंबर को अपलोड किया गया था। सात दिनों के भीतर उन्हें केंद्र भेजा जाना है। एनबीए के अधिवक्ता राहुल भाटिया ने कहा है कि समय की कमी होने पर हम आदेश को फाइल नहीं कर पाए।

बता दें कि याची ने दायर आवेदन में मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी ) मुंबई की जांच पूरी होने व अदालत में रिपोर्ट दाखिल होने तक मीडिया में उनके खिलाफ चल रही खबरों पर अंतरिम आदेश मांगा था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano