Sunday, September 19, 2021

 

 

 

नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की ‘ठाकरे’ पर लग रहे प्रोपेगेंडा के आरोप, कुछ यह दिया जवाब

- Advertisement -
- Advertisement -

नवाजुद्दीन सिद्दीकी, फिल्म ठाकरे में बालासाहेब ठाकरे की भूमिका निभा रहे हैं। इस फिल्म को कुछ लोग प्रोपैगंडा फिल्म कह रहे हैं और माना जा रहा है कि लोकसभा चुनाव नज़दीक फिल्म रिलीज़ होगी।

इन आरोपो पर नवाज़ ने कहा बाला साहेब को किसी प्रोपेंगैंडा की क्या ज़रूरत है। उनका जन्मदिन 23 जनवरी को होता है और इसलिए फिल्म के मेकर्स उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए फिल्म इसी दिन रिलीज़ कर रहे हैं। इसमें कोई पॉलिटिकल मोटिव क्यों होगा।

नवाज़ का मानना है कि अगर यह फिल्म किसी और दिन भी रिलीज़ होती या होगी तो इस फिल्म को वहीं प्रतिक्रिया मिलेगी, जो अब मिल रही है। नवाज़ कहते हैं कि मैं मानता हूं कि बाला साहेब की ज़िंदगी विवादित रही है और हम लोग कोई व्हाइट वाशिंग करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं। जो हैं, वही दिखायेंगे। फिल्म देखने के बाद जनता खुद इस बात को समझ जायेगी।

bal

नवाज़ का कहना है कि इस बायोपिक में ठाकरे की कहानी उस वक्त से शुरू होगी, जब वह कार्टूनिस्ट थे। वह किस तरह एक शांत स्वभाव के व्यक्ति से एक बड़े नेता बने और उन्होंने अपना ऑरा कायम किया। उनके संघर्ष से उनके विजय तक की कहानी दिखाई गयी है। बता दें कि ठाकरे फिल्म 25 जनवरी को मर्णिकर्णिका के साथ रिलीज़ होने वाली है।

नवाज से पूछा गया कि क्या वो खुद को एक मजबूत राजनीतिक विचारधारा से अलग करने में सक्षम हैं? इस पर नवाज ने जवाब दिया-मेरी कोई राजनीतिक विचारधारा नहीं है। एक्टिंग करते वक्त मेरे पास सिर्फ एक्टिंग का विचार होता है, जिसपर मैं 10 घंटे से ज्यादा भी बात कर सकता हूं। इसके अलावा मेरे पास कोई विचारधारा नहीं है। मैं एक आर्टिस्ट हूं और ऐसा ही रहना चाहता हूं। एक आर्टिस्ट की कोई विचारधारा नहीं होती। अगर आपके पास विचारधारा है तो आप आंदोलनकारी बन जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles