जयपुर में निर्देशक संजय लीला भंसाली की आगामी फिल्म ‘पद्मावती’ के सेट पर राजपूत करनी सेना द्वारा की गई बदसलूकी को लेकर डायरेक्‍टर अनुराग कश्‍यप उन लोगों में से हैं जो भंसाली के साथ खड़े हैं. उन्होंने राजपूत करनी सेना को हिन्दू चरमपंथी करार देते हुए कहा कि उनसे डरने की जरुरत नहीं हैं.

इसी के साथ उन्होंने सोशल मीडिया पर धमकी देने वालो को चेताते हुए एक फेसबुक पोस्ट की जिसमे उन्होंने लिखा कि ‘ मैं कई मुद्दों पर तब से अवाज उठा रहा हूं जब से यह बिना चेहरे और आवाज की लोग सोशल मीडिया पर एक भीड़ बन कर नहीं होते थे. फर्क नहीं पड़ता आप क्‍या कहते हैं या करते हैं, आप मुझ पर मौखिक या शारीरिक हमले कर सकते हैं, मैं हमेशा उसके विरोध में आवाज उठाउंगा जो मुझे सही लगती हैं.’उन्होंने आगे लिखा, ‘मैंने हमेशा से सरकार चलाने वाले लोगों से सवाल करना सीखा है और मैं जब एक छात्र था, तब से यह कर रहा हूं. उस वक्त वी. पी. सिंह प्रधानमंत्री थे।’

अनुराग ने कहा, ‘मुझे सिखाया गया था कि प्रधानमंत्री आपके राज्य और देश का प्रमुख है, जिससे आप सवाल पूछकर जवाब मांग सकते हैं और उनके साथ चर्चा कर सकते हैं, लेकिन उनसे डरे नहीं, क्योंकि आपने ही उन्हें चुना है. लेकिन अगर किसी को प्रधानमंत्री से डरना पड़े तो यह दुखद है. आप सम्‍मान किसी से ले नहीं सकते, वह आपको अर्जित करना पड़ता है.’ उन्होंने कहा कि ‘मैं अपने स‍ंविधान, अपने अधिकार और अपनी आजादियों में भरोसा करता हूं.

याद रहें कि भंसाली पर हुए हमले के बाद उन्होंने कहा था कि उन्हें स्वयं के राजपूत होने पर शर्म आ रही है. इसी के साथ उन्होंने कहा था, “यह मायने नहीं रखता की आप मुझ पर हमले करें या मुझ पर तंज कसें. मुझे जो महसूस होता है, मैं वहीं करूंगा.’


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें