pad

padma

मुंबई। निर्देशक संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ की नई रिलीज डेट का ऐलान कर दिया गया है. यह फिल्म 9 फरवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होगी.

हालांकि पद्मावती को लेकर सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के सुझाव को लेकर करणी सेना गुस्से में है. करणी सेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि मोदी सरकार ने हमें आश्वासन दिया था लेकिन फिर भी किसके दबाव में फ़िल्म को हरी झंडी दे दी गई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

करणी सेना ने कहा है कि पूरा देश जलेगा अगर पद्मावती रिलीज़ हुई, हम हिंसा नहीं चाहते हैं पर हमें मजबूर न किया जाए. करणी सेना के नैशनल प्रेजिडेंट सुखदेव सिंह गोगामेदी ने कहा फिल्म रिलीज होने के बाद जो परिणाम होंगे, उसके लिए बीजेपी सरकार और सेंसर बोर्ड पूरी तरह जिम्मेदार होंगे.

करनी सेना के जनरल सेक्रेट्री सुखदेव सिंह ने कहा कि सरकार इसे रिलीज़ क्यों कर रही है. इस पूरे मामले पर आरएसएस, विश्व हिंदू परिषद न जाने क्यों चुप हैं. भंसाली जेल में क्यों नहीं है… राजद्रोह का मुकद्दमा क्यों नहीं हो रहा है. बीजेपी ने हमारे साथ वादा ख़िलाफ़ी की है. पद्मावती पर हमारा आज से आंदोलन शुरू कर रहे हैं. हम 19 राज्यों में विरोध करेंगे.

गौरतलब रहे कि ‘पद्मावती’ 1 दिसम्बर को रिलीज होने वाली थी, लेकिन करणी सेना और कुछ राजनीती नेताओं के विरोध के चलते फिल्म की रिलीज डेट को ताल दिया गया था. अब फिल्म में कुछ बदलाव के बाद और नए नाम ‘पद्मावत’ से रिलीज किया जा रहा है.

Loading...