हिंदू विरोधी कंटेंट पर आरएसएस के साथ बैठक को लेकर Netflix ने दिया जवाब

8:00 pm Published by:-Hindi News

हिंदू विरोधी कंटेंट को रोकने के लिए आरएसएस के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात को लेकर आ रही खबरों का नेटफ्लिक्स ने खंडन किया है।

मुंबई में हो रहे जिओ मामी फिल्म फेस्टिवल के एक पैनल डिस्कशन ‘आर्टिस्टिक फ्रीडम: मैपिंग आउट द एंटरटेनमेंट स्टोरी’ में नेटफ्लिक्स इंटरनेशनल ऑरिजिनल फिल्म की डायरेक्टर सृष्टि बहल आर्य इन रिपोर्टों को ‘पूरी तरह से झूठ’ बताते हुए सृष्टि ने कहा, “इस बात में कोई सच्चाई नहीं है। ऐसी कोई मुलाकात नहीं हुई। यह एक फर्जी खबर है।”

सरकार डिजिटल सामग्री पर सेंसर लगाने के बारे में भी सोच रही है? इस सवाल पर नेटफ्लिक्स की सृष्टि बहल आर्या ने कहा, ‘कानून तो कानून है। यह इस तरह नहीं है कि मैं तुम्हें पसंद नहीं करती तो तुम्हें मार दूंगी।  कानून में जो भी अनुमति है, हम उसी हिसाब से काम करेंगे।’

हाल के दिनों में ऐसी भी चर्चा हो रही थी कि सरकार डिजिटल कंटेंट को सेंसर करने की तैयारी में है। हाल ही में अमेजन प्राइम की सीरीज में मेड इन हेवन में नजर आईं शोभिता धुलिपाला ने कहा, ‘‘जब भी कोई आवाज दबाई जाती है तब अन्याय के विरोध में कई सारी आवाजें बाहर निकलकर आती हैं’’

बता दें कि पिछले महीने शिवसेना आईटी सेल के एक सदस्य ने नेटफ्लिक्स के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। रमेश सोलंकी ने अपनी शिकायत में नेटफ्लिक्स की सीरीज ‘सैक्रेड गेम्स’, ‘लीला’ और ‘घोल’ का उदाहरण देते हुए कहा कि नेटफ्लिक्स की हर सीरीज में भारत को वैश्विक स्तर पर बदनाम किया जाता है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें