अपनी बेबाक राय के लिए पहचाने जाने वाले बॉलीवुड एक्टर सैफ अली खान ने राष्ट्रवाद और  हिंदुत्व को लेकर कहा कि देश के विकास के लिए राष्ट्रवाद जरूरी हो सकता है लेकिन हिंदुत्व नहीं.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार सैफ अली खान ने राष्ट्रवाद को लेकर कहा कि ‘राष्ट्रवाद अदभुत है और विकास के लिए जरूरी भी, लेकिन क्या हिन्दुत्व के लिए भी यही चीज है? मुझे ऐसा नहीं लगता है।’
सैफ ने आगे कहा कि भारत देश जो कि सेकुलर है, यहां अल्पसंख्यक रहते हैं,  लेकिन अगर यहां हिन्दुत्व को भी जरूरी कर दिया जाएगा तो इससे मुसलमानों को परेशानी हो सकती है. हालांकि उन्होंने आगे यह भी कहा कि हिन्दुत्व से उन्हें दिक्कत नहीं हो सकती है, क्योंकि उनकी दुनिया, उनका समाज अलग है, उनका क्लास अलग है, उन्हें सुरक्षा प्राप्त है. लेकिन कानून को सभी के लिए बराबर बना दिया जाना चाहिए.
इसी के साथ उन्होंने कहा कि ‘ मुझे तो एक हिन्दू राज्य में भी रहने में दिक्कत नहीं है, लेकिन कानून को सभी के लिए बराबर बना दिया जाना चाहिए’ सैफ के मुताबिक मेरे जैसी विशिष्टता सभी को हासिल होनी चाहिए. उन्होंने सोनू निगम के अज़ान वाले ट्वीट पर कहा कि सोनू का बयान आक्रामक था.
Loading...