34076039 1264713896996885 2265536493487390720 n

तनवीर हुसैन

अक्सर देखा जाता है कि लोग खाने पीने की चीज़ों को जब उनके खाने से ज्यादा होता है तो फेंक देते हैं. इंसान दो वक़्त की रोटी के लिए दिन रात मेहनत करता है. लेकिन इसी खाने को जब पेट भर जाता है तो कुछ लोग कद्र नहीं करते हैं और फेंक देते हैं. लेकिन एक खिलाड़ी ने फेंके हुए रोटी को चूम कर और अपने माथे से लगा कर दुनिया वालों को यह पैगाम दिया है कि अनाज की कद्र करो. इसे फेंको नहीं.

जर्मनी के एक मुस्लिम खिलाड़ी मेसुट ओज़िल अरब इमारत में अपनी टीम के लिए यूरोपियन लीग का सेमीफाइनल खेल रहे थे. मैच एक एक से ड्रॉ हो गया. इसी बीच मैच देख रहे एक दर्शक ने मेसुट ओज़िल की तरफ रोटी का टुकड़ा फेंका. लेकिन वह इस हरकत पर गुस्सा नहीं बल्कि उन्होंने उस रोटी को उठाया और इज्जत के साथ उसे चूम लिया और अपने माथे पर लगा कर मैदान के कोने में रख दिया.

खिलाड़ी मेसुट ओज़िल की यह अच्छाई कैमरे में क़ैद हो गई और लोगों ने इसे दुनिया भर में वायरल कर दिया. अब लोग इसे शेयर करके खिलाड़ी मेसुट ओज़िल की तारीफ़ कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मेसुट ओज़िल इस्लामी तरीके से अपनी जिंदगी गुजारते हैं. वह मैदान में खेलने के लिए जब उतरते हैं तो सबसे पहले पवित्र किताब कुरान की तिलावत करते हैं. वहीं अपनी टीम की जीत के लिए दुआ करके खेलने के लिए जाते हैं.व ह हमेशा इस्लामी तौर तरीके के अनुसार अपनी जिंदगी गुजारते हैं.

वहीं मेसुट ओज़िल ने कहा है कि वह रमजान के महीने में रोज़े भी रखते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि काम की वजह से जिस तरह रमजान गुज़ारना चाहिए उस तरह रमजान का महीना नहीं गुजार पाते लेकिन जिस दिन छुट्टी होती है उस दिन वह आज़ादी के साथ सभी काम करते हैं.

उनका मानना है कि खाने पीने की चीज़ों की इज्ज़त करनी चाहिए.उन्हें ऐसी जगह नहीं डालना चाहिए जहाँ लोगों के पैर पड़ते हों.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?