लंबे समय से पत्नी हसीन जहां से चले आ रहे विवाद के बीच क्रिकेटर मोहम्मद शमी को अदालत से बड़ी राहत मिली है।शुक्रवार को अलीपुर कोर्ट ने हसीन जहां के सभी दावों को खारिज कर फैसला शमी के पक्ष में सुनाया।

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को अब सिर्फ अपनी बेटी के लिए हर महीने 80,000 रुपए गुजारा भत्ता देना होगा। बता दें कि हसीन जहां ने मोहम्मद शमी से गुजारा भत्ता के तौर पर प्रतिमाह 7 लाख रुपए की मांग की थी। इस मामले पर शमी के वकील का कहना है कि शमी अपनी बेटी का खर्च उठाने के लिए शुरू से ही तैयार थे।

अदालत में सुनवाई के दौरान शमी के वकील सलीम रहमान ने न्यायालय को बताया कि हसीन जहां फिलहाल बड़े पैमाने पर मॉडलिंग कर रही हैं। इसके साथ ही बॉलीवुड की कई फिल्मों में भी उन्हें काम मिला है। ऐसे में गुजारा भत्ता की कोई जरूरत नहीं है। इससे संबंधित कई साक्ष्य उन्होंने प्रस्तुत किया जिसे देखने के बाद न्यायाधीश नेहा वर्मा ने गुजारा भत्ता संबंधी हसीन जहां की मांग को खारिज कर दी।

shami wife pic

वहीं इस बारे में हसीन जहां के वकील जाकिर हुसैन ने बताया कि सोमवार या मंगलवार को वे इस फैसले के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में अपील करेंगे। ध्यान रहे इसी साल मार्च में हसीन जहां मोहम्मद शमी पर घरेलू हिंसा और विवाह के बाद दूसरी महिलाओं से संबंध रखने की शिकायत दर्ज कराई थी। जहां ने शमी की अन्य महिलाओं के साथ वाट्सएप और फेसबुक मैसेंजर पर हुई बातों के स्क्रीनशॉट अपने फेसबुक पोस्ट पर साझा किए थे।

मोहम्मद शमी इस समय टीम इंडिया के साथ  इंग्लैंड के दौरे पर हैं जहां वे टीम के साथ टेस्ट मैचों की सीरीज का हिस्सा हैं। अभी तक इस सीरीज में दो टेस्ट मैच हो चुके हैं और दोनों ही टेस्ट मैचों में टीम इंडिया की हार हो चुकी है। इस सीरीज के दोनों मैचों में शमी ने अभी तक शानदार प्रदर्शन किया है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें