Thursday, October 21, 2021

 

 

 

कंगना रनौत को मोदी सरकार ने दी वाई प्लस सुरक्षा, महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने जताई हैरानी

- Advertisement -
- Advertisement -

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को मोदी सरकार ने वाई प्लस सुरक्षा प्रदान की है। ये सुरक्षा ऐसे समय में दी गई। जबकि उनकी शिवसेना नेता संजय राऊत के साथ जुबानी जंग जारी है। सुरक्षा मिलने पर अभिनेत्री ने गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद कहा।

अभिनेत्री ने कहा कि शाह चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा। कंगना ने कहा, “ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा, मैं अमित शाह जी की आभारी हूँ। वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।”

कंगना को सुरक्षा दिये जाने पर दूसरी और महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने हैरानी जताई है। उन्होने कहा, “मुंबई या महाराष्ट्र जो भी भी उसका अपमान करता है, ऐसे व्यक्ति को केंद्र शासन ‘Y’ प्लस की सुविधा देता है ये बहुत ही आश्चर्यकारक और दुखकारक है। महाराष्ट्र कोई राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, शिवसेना और कांग्रेस का ही नहीं है। भाजपा का भी है पूरी जनता का है।”

बता दें सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले के सामने आने के बाद कंगना के एक के बाद एक विवादित बयान सामने आ रहे है। हाल ही में उन्होने मुंबई की तुलना पीओके से कर सनसनी मचा दी। इतना ही नहीं उन्होने ये तक कह डाला कि कंगना ने कहा था कि उन्हें बॉलीवुड माफिया से ज्यादा मुंबई पुलिस से डर लगता है। इस पर राउत ने उन्हें मुंबई न आने की सलाह दी थी।

जिसके बाद कंगना ने कहा कि संजय राउत ने मुझे खुले में धमकी दी है और मुंबई नहीं आने को कहा है, मुंबई की गलियों में आज़ादी ग्रैफिटी और अब खुली धमकी, मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जैसी फ़ीलिंग क्यों दे रहा है? वहीं शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में कंगना को ‘मेंटल वूमेन’ बताया है। ‘सामना’ में लिखा गया है कि ‘आने वाले मानसून सत्र में विपक्ष को भी आउटसाइडर के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।’

शिवसेना ने कहा कि ‘यह बिल्कुल भी बरदाश्त के बाहर है कि एक आउटसाइडर, जिसने मुंबई में आकर सब कुछ हासिल किया वो मुंबई का अपमान कर रही है और गलत बातें बोल रही है। इसकी आलोचना होनी चाहिए।’ शिवसेना ने कहा कि ‘मेंटल वूमन’ ने मुंबई और मुंबई पुलिस का अपमान किया है। ऐसे में उन्हें महाराष्ट्र में रहने का अधिकार नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles