लेबनानी-अमेरिकी स्टार मिया खलीफा के एक के बाद एक भारत में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट आ रहे है। इसके साथ ही वह ट्रोलर्स को भी निशाने पर ले रही है। उन्होने हाल ही में ट्रोलर्स पर तंज़ कसा कि वह जब तक ट्वीट करती रहेगी कि उन्हे पैसे नहीं मिल जाते।

दरअसल, उन पर पैसा लेकर ट्वीट करने तक के आरोप लग रहे हैं। मिया खलीफा ने अमेरिका एक्ट्रेस अमांडा सर्नी के एक ट्वीट को रिट्वीट किया। अमांडा सर्नी (Amanda Cerny) ने ट्वीट कर कहा है, ‘यह सिर्फ तंग करने के लिए है. मेरे कई सवाल हैं…मुझे कौन पैसे दे रहा है? मुझे कितना पैसा मिल रहा है? मैं अपने इनवॉयस कहां भेजूं? मुझे पैसे कब मिलेंगे? मैंने खूब ट्वीट किए हैं…क्या मुझे एक्स्ट्रा पैसे मिलेंगे?’

अमांडा सर्नी के इस ट्वीट पर मिया खलीफा (Mia Khalifa) ने रिप्लाई करते हुए लिखा, ‘हम तब तक ट्वीट करना जारी रखेंगी जब तक हमें पैसे नहीं मिलते।’

इसके अलावा उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में मिया खलीफा भारतीय खाने का लुत्फ उठाती हुई नजर आ रही हैं। वीडियो में मिया खलीफा कहती हैं कि सोशल मीडिया पर इंसानियत के लिए चलाए जाने वाले अभिनय की वजह से उन्हें यह भारतीय खाना खाने को मिला है। उन्हें यह खाना कनाडा की मशहूर लेखिका रुपी कौर और कनाडा के सिख सांसद जगमीत सिंह ने भेजा है।

वीडियो में मिया खलीफा कहती हैं, ‘बहुत अच्छा लगता है जब आप कड़ी मेहनत करते हैं और उस मेहनत की बदौलत आप कुछ कमाते हैं। जैसे कि मैंने आज यह बहुत ही लजीज डिनर कमाया है। यह इंसानियत के तौर पर सोशल मीडिया पर चलाए जाने वाले कैंपेन की वजह से मुझे मिला है। हर चीज की कीमत होती है। मेरे काम के लिए मुझे समोसा और यह सब मिला है।’ उन्होने किसान आंदोलन का भी समर्थन किया।

उन्होंने भारतीय खाने के लिए रुपी कौर और जगमीत सिंह का शुक्रिया अदा किया है। मिया खलीफा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘धन्यवाद रुपी कौर, इस खूबसूरत दावत के लिए, धन्यवाद जगमीत सिंह, गुलाब (गुलाब जामुन) के लिए। मैं इसे खाने के साथ ही खाऊंगी। आपको पता है कि वे क्या कहते हैं, एक गुलाब रोजाना फासीवाद को दूर रखता है। #FarmersProtests।’

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano