kait

बॉलीवुड एक्ट्रेस कटरीना कैफ का कहना हैं कि मैरिटल रेप के मामले हिलाओं को चुपचाप अत्याचारों को सहन करने के बजाय उनके खिलाफ आवाज उठानी चाहिए. कैफ का मानना है कि पढ़ी लिखी महिलाएं भी मैरिटल रेप के मामले में चुप रह जाती हैं. इसकी वजह यह है कि हिंदुस्तान की बड़ी आबादी इस क्राइम को क्राइम नहीं मानती.

कटरीना ने कहा ‘मैं शिक्षित महिलाओं के बारे में जानती हूं, जो चुपचाप हिंसा सहती रहती हैं क्योंकि वो सामाजिक नियम-कायदों से डरती हैं और उंगलियां भी उन्हीं की ओर उठती हैंं. खास तौर से तब जब हमारे समाज के अधिकतर लोग वैवाहिक बलात्कार जैसे अपराध को मानने से इनकार करते हैं.

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं अधिक से अधिक महिलाओं से इस मुद्दे को उठाने का अनुरोध करूंगी. खुद को कमतर या कमजोर समझना ठीक नहीं है, क्योंकि किसी तरह की कोरी कल्पना के आधार पर हम लैंगिक रूप से कमजोर नहीं हैं.’

अपनी बात जारी रखते हुए वह कहती हैं, इंडिया में देश के सर्वोच्छ पदों पर महिलाएं रह चुकी हैं जबकि यूनाइटेड किंगडम में अब तक ऐसा नहीं हो पाया है. बावजूद इसके इंडिया में जेंडर को लेकर इतना भेदभाव क्यों है, यह आश्चर्य की बात है. मैं महिलाओं के खिलाफ होने वाले उन अपराधों की केवल कल्पना कर सकती हूं, जिनकी रिपोर्ट भी भारत में दर्ज नहीं हो पाती. ऐसा नहीं है कि यह घटनाएं केवल भारत में ही हो रही हैं, दुनियाभर में ऐसी घटनाओं की भरमार है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें