महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ड्रग्स केस में विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) के खिलाफ नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो से जांच की मांग की है। बता दें कि हाल ही में सैंडलवुड ड्रग रैकेट केस में बेंगलुरु पुलिस ने अभिनेता विवेक ओबरॉय के मुंबई स्थित घर पर छापेमारी की थी।

इस मामले में अब सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने विवेक की पत्नी प्रियंका अल्वा को पूछताछ के लिए समन भेजा है। क्राइम ब्रांच को शक है कि प्रियंका अल्वा पुलिस से भाग रहे अपने भाई आदित्य अल्वा की मदद कर रही हैं। दरअसल, आदित्य के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद से वह फरार हैं।

पूर्व अंडरवर्ल्ड डॉन मुथप्पा राय के बेटे रिक्की राय से पूछताछ के बाद से ही बेंगलुरु पुलिस लगातार आदित्य अल्वा को पकड़ने में लगी हुई है। आद‍ित्य अल्वा पूर्व मंत्री जीवराज अल्वा के बेटे हैं। उनकी बहन प्रियंका अल्वा की शादी बॉलिवुड ऐक्टर विवेक ओबरॉय से हुई है।

 इस केस में क्राइम ब्रांच की टीम कन्नड़ एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी और संजना गलरानी सहित 10 से ज्यादा लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। रागिनी को NDPS एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद रागिनी का पहला डोप टेस्ट कराया गया। जहां उन्होंने सैम्पल के साथ छेड़खानी करने का प्रयास किया।

सेंट्रल क्राइम ब्रांच के मुताबिक आदित्य अल्वा को इस केस में पांचवा आरोपी बनाया गया है। उन पर कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के कलाकारों को कथित तौर पर ड्रग्स सप्लाई करने के आरोप हैं। इस केस में क्राइम ब्रांच की टीम कन्नड़ अभिनेत्री रागिनी द्विवेदी सहित कुछ ड्रग पेडलर्स को गिरफ्तार कर चुकी है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano