किसान आंदोलन (Farmer Protest) को लेकर किए गए ट्वीट (Tweet) के बाद बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत अब खाप पंचायत के निशाने पर आ गई है। खाप पंचायतों ने कंगना को खुलेआम चेतावनी देते हुए कहा कि कंगना में हिम्मत है तो वो हरियाणा आकर दिखाएं।

अखिल भारतीय सर्वजातीय पुनिया खाप पंचायतों ने कहा है कि किसानों के आंदोलन को लेकर कंगना को इस प्रकार की बात नहीं करनी चाहिए। खाप पंचायतों ने कहा कि अब पंचायत भविष्य में आने वाली कंगना की सभी फिल्मों का विरोध भी करेगी। पंचायत की तरफ से कंगना के खिलाफ मुकदमें दर्ज कराई जाने की बात भी कही गई है।

खाप नेता जितेंद्र छातर का कहना है कि पूरे देश की खापें कंगना रनौत के शर्मनाक बयान की कड़े शब्दों में निंदा करती है और उनको यह चेतावनी देती है कि यह बयान देने के बाद उनमें अगर हिम्मत है तो हरियाणा व आसपास के राज्यों पश्चिमी उतर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान में घुस कर दिखाए. उनको अपनी औकात का पता चल जाएगा।

कंगना के ट्वीट पर उन्होने कहा, 100-100 रुपये में बूढ़ी मां नहीं बल्कि नाचने वाली आ जाती हैं। खाप नेता ने यह भी कहा कि कंगना रनौत के खिलाफ जींद और अन्य जगह पर मुकदमें भी दर्ज करवाये जाएंगे भविष्य में उनकी जो फ़िल्म आएगी उसका विरोध भी किया जाएगा।

वहीं चंडीगढ़ हाई कोर्ट में दो वकीलों ने पंजाब के DGP को लेटर लिखकर कंगना के खिलाफ FIR की अपील की है। इसमें वकीलों की तरफ से मांग की गई है कि पंजाब के बुजुर्गों और अपाहिजों की भावनाएं आहत करने के लिए कंगना के खिलाफ मामला दर्ज करना चाहिए।

इसके अलावा दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के सदस्य जस्मैन सिंह नोनी की ओर से वकील हरप्रीत सिंह होरा ने कानूनी नोटिस भेजा। नोटिस में कहा गया, ‘‘इसी तरह संविधान के तहत किसानों को भी शांतिपूर्ण प्रदर्शन भी अधिकार है और वह किसानों का अपमान नहीं कर सकती हैं।’’

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano