pad

pad

सुप्रीम कोर्ट ने भले ही संजय लीला भंसाली की फिल्म को देशभर में रिलीज करने का आदेश दिया हो लेकिन ‘पद्मावत’ फिल्म की मुसीबत थमने का नाम नहीं ले रही हैं. करणी सेना ने अब 25 जनवरी को भारत बंद बुलाया है. साथ ही फिल्म के रिलीज होने पर सिनेमा घरों को जलाने की धमकी जारी की है.

इसके अलावा करणी सेना ने अब फिल्म के विरोध में देश की सेना को भी शामिल कर लिया है. सेना में जाति तलाशते हुए करणी सेना प्रमुख महिपाल सिंह ने भारतीय सेना के क्षत्रिय जवानों से पद्मावत के विरोध में एक दिन के लिए मेस के खाने का बहिष्कार करने को कहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मकराना ने कहा, ‘उनकी (जवानों की) बहनों का सम्मान और गरिमा दांव पर लगी है. उन्हें भी एक दिन के लिए मेस के खाने का बहिष्कार कर एकता दिखानी चाहिए.’ मकराना ने यह भी कहा कि अगर सरकार उनकी बात नहीं सुनती तो उन्हें एक दिन के लिए हथियार रख देने चाहिए.

दूसरी ओर गुजरात में फिल्म के विरोध को देखते हुए मल्टीप्लेक्स मालिकों ने फिल्म न चलाने का फैसला लिया है. मेहसाणा में फिल्म के विरोधियों ने यात्रियों को बस से उतारकर बस में आग लगा दी. ऐसे में अब अहमदाबाद मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ने पद्मावत रिलीज न करने का फैसला लिया है.

अहमदाबाद के मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश पटेल का कहना है कि गुजरात के सिनेमाघरों में पद्मावत फिल्म को नहीं दिखाया जाएगा.