कंगना ने अनुराग कश्यप को बताया ‘मिनी महेश भट्ट तो स्वरा को कहा चापलूस

Kangana said Silly Ex, Hrithik gave a fitting reply

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत एक के बाद एक बॉलीवुड हस्तियों पर सीधा हमला कर रही है। हाल ही में उन्होने तापसी पन्नू को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बताया था। अब उन्होने अनुराग कश्यप को ‘मिनी महेश भट्ट’ का लकब से नवाज दिया। इसके साथ ही तनु वेड्स मनु में कंगना की को-स्टार रहीं स्वरा भास्कर को चापलूस कह दिया।

कंगना ने अनुराग कश्यप के एक ट्वीट पर तंज कसते हुए कहा- ‘ये रहे मिनी महेश भट्ट, जो कंगना को अकेली और झूठे लोगों से घिरी हुई बता रहे हैं, ये लोग कंगना का इस्तेमाल कर रहे हैं, एंटी-नेशनल्स, अर्बन नक्सल्स जो आतंकवाद‍ियों को बचाते हैं और अब मूवी माफ‍िया को सुरक्षा दे रहे हैं।’

इससे पहले कंगना एक Video में कह रही हैं, ‘चापलूस आउटसाइडर बहुत ज़्यादा हैं। जैसे मैं इनको देखती हूं, स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू टाइप लोग, जो कहते हैं कि हमको तो प्यार ही प्यार किया। चापलूसों को दुनिया में कहीं कोई प्रॉब्लम नहीं है।’

कंगना आगे कहती हैं, ‘जब मैं उनके और आउटसाइडर की राइट्स के लिए लड़ रही थी। जब मैं उनके राइट्स के लिए लड़ रही थी। आज वो लोग फ़िल्में करती हैं। वो पैरलल सिनेमा मैंने चलाया है। जिन चीजों को लेकर वो बात करती हैं… फे़मिनिज़म, यह 2014 की फ़िल्म क्वीन से शुरू हुई। अब वो मुझे कहते हैं कि मैं एक्सट्रीमिस्ट हूं। मेरे पास जॉब नहीं है, तो मैं नेपोटिज़्म की बातें करती हूं। ये वो आउटसाइडर्स कह रहे हैं ,जिनके लिए मैं लड़ती हूं। तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर टाइप लोग। ये मुझे कहते हैं। चापलूस आउटसाइडर्स को कहीं कोई प्रॉब्लम्स नहीं है।’

हालांकि अब स्वरा भास्कर और अनुराग कश्यप ने कंगना को भी करारा जवाब दिया है। अनुराग कश्यप ने ट्वीट कर कहा ‘मैं बोलूंगा कंगना बहुत हो गया और अगर यह तुम्हारे घर वालों को भी नहीं दिखता और तुम्हारे दोस्तों को भी नहीं दिखता तो फिर एक ही सच है कि हर कोई तुम्हारा इस्तेमाल कर रहा है और तुम्हारा अपना आज कोई नहीं है। बाकी तुम्हारी मर्जी, मुझे जो गाली बकनी है बको।’

वहीं स्वरा ने कंगना पर तंज कसते हुए ट्वीट किया- ‘1955 में ‘पाथेर पांचाली’ के साथ कंगना जी ने parallel cinema चलाया, 2013 में क्वीन फिल्म के साथ फेमिनिज्म शुरू किया पर इन सबसे पहले 1947 में उन्होंने भारत को आजादी दिलवाई थी, कहत एक अज्ञात चापलूस जरूरतमंद, आउटसाइडर, चापलूसी का फल (आम) खाते और उंगलियां चाटते हुए’

विज्ञापन