बॉलीवुड अभिनेता कादर खान ने आज दुनिया को अलविदा कह दिया है। बेटे सरफराज ने कादर खान के निधन की पुष्टि की है। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे और पिछले कुछ समय से कनाडा के एक अस्‍पताल में भर्ती थे।

सरफराज ने पीटीआई को बताया, ‘मेरे डैड हमें छोड़कर चले गएए हैं। कनाडा के टाइम के मुताबिक 31 दिसंबर शाम छह बजे उनका निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वे दोपहर को कौमा में चले गए थे। वे 16-17 हफ्ते से अस्पताल में थे। उनका अंतिम संस्कार कनाडा में ही किया जाएगा। हमारा पूरा परिवार यहीं पर है और हम यहां लंबे समय से रह रहे हैं। हम सबकी दुआओं के लिए उनका शुक्रिया अदा करते हैं।’

Loading...

बता दें कि कादर खान को लंबे समय से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और डॉक्टर उन्हें नियमित वेंटीलेटर और बीपीएपी वेंटीलेटर पर रख रहे थे। उनके दिमाग ने भी काम करना बंद कर दिया था । उन्हें रेगुलर वेंटीलेटर से हटाकर बाईपैप वेंटीलेटर पर रखा गया था। कादर खान प्रोगेसिव सुप्रान्यूक्लीयर पाल्सी डिसऑर्डर नाम की बीमारी से जूझ रहे थे। इस बीमारी की वजह से कादर खान का दिमाग बुरी तरह से प्रभावित हुआ था। वहीं उन्हें सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी।

सरफराज के मुताबिक, डॉक्टरों की टीम लगातार उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए थी लेकिन आखिरकार वो जिंदगी की जंग हार गए। अस्पताल में भर्ती होने के बाद उनके नि’धन की अफवाह भी उड़ी थी । इस खबर को कादर खान के बेटे सरफराज ने झूठा बताया था। 

कादर खान का जन्म 22 अक्टूबर, 1937 में अफगानिस्तान के काबुल में हुआ था। इंडो-कैनेडियन मूल के थे। कादर खान ने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है और 1970 और 1980 के दशक के जाने माने स्क्रीनराइटर भी रहे हैं। कादर खान ने फिल्मों में एंट्री करने से पहले सिविल इंजीनियरिंग के छात्रों को पढ़ाया भी था। कादर खान अपने संजीदा और कॉमेडी दोनों ही तरह के किरदारों के लिए खास पहचान रखते हैं। गोविंदा के साथ तो कादर की कमाल की ट्यूनिंग रही है। 



शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें