कांकाणी हिरण शिकार व आर्म्स एक्ट मामले में बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को जोधपुर कोर्ट ने तलब किया है। सोमवार को जोधपुर जिला एवं सेशन जिला जोधपुर जज राघवेंद्र कच्छवाह की कोर्ट ने 28 सितंबर को सलमान खान को कोर्ट में पेश होने के आदेश दिया।

दरअसल, मामले में सोमवार को सलमान की याचिका पर काला हिरण शिकार प्रकरण व राज्य सरकार की याचिका पर आर्म्स एक्ट मामले की सुनवाई पूरी नहीं हो पाई। बता दें कि कांकाणी हिरण शिकार मामले में सलमान खान को सीजेएम ग्रामीण कोर्ट के पीठासीन अधिकारी देव कुमार खत्री की कोर्ट ने सलमान खान को 5 साल की सजा सुनाई थी।

इसके बाद सलमान की ओर से जिला एवं सेशन जिला जोधपुर कोर्ट में एक अपील पेश कर इस सजा को निरस्त करने की मांग की गई। इसके अलावा सलमान खान ने एक बार विभाग के अधिकारी के खिलाफ झूठी गवाही देने के मामले में अर्जी पेश की थी , जिस पर भी सुनवाई लंबित थी।

अक्टूबर 1998 में जोधपुर में फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान खान पर जोधपुर के पास कांकाणी गांव में दो काले हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा था। इस मामले में फिल्म अभिनेता सैफ अली खान, नीलम, तब्बू, सोनाली बेंद्रे व दुष्यंत सिंह मामले में सहआरोपी होने के आरोप लगे थे।

हालांकि मामले में सह आरोपी सैफ अली खान, नीलम, तब्बू व सोनाली बेन्द्रे को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था। सजा सुनाए जाने के बाद सलमान को जेल भेज दिया गया था। फिलहाल वो जमानत पर बाहर हैं। सलमान ने ट्रायल कोर्ट के इस फैसले को चुनौती दे रखी है।

वहीं घोड़ा सी फार्म व भवाद शिकार प्रकरण में सलमान खान को हाईकोर्ट ने बरी कर दिया था। लेकिन सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में इन मामलों में एसएलपी दायर कर रखी है। इसके अलावा 1998 में सलमान पर लाइसेंस की अवधि समाप्त हो जाने के बाद भी हथियार रखने का आरोप लगा था। बाद में सलमान को इस मामले में बरी कर दिया गया, जिस पर राज्य सरकार ने ट्रायल कोर्ट के इस फैसले को चुनौती दी है।

विज्ञापन