कोरोना और फिर लंबे लॉकडाउन ने देश ने निचले तबके का रोजगार पूरी तरह से खत्म कर दिया। ऐसे में ये लोग भूखे रहने को मजबूर है। इन लोगों में से एक आर भास्करन है जो कि चेन्नई में मोची की दुकान चलाते हैं। जिसकी आगे आकर खुद इरफान पठान ने मदद की।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक इरफान पठान (Irfan Pathan) ने भास्करन की मदद के लिए ईएसपीएन क्रिकइंफो वेबसाइट में काम करने वाले एंकर रौनक कपूर से इस मोची का नंबर मांगा। पठान को जैसे ही मोची का नंबर मिला तो उन्होंने तुरंत भास्करन से बात की और तत्काल 25 हजार रुपए की सहायता की।

भास्करन ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए बताया, ‘इरफान पठान ने पिछले हफ्ते मुझे 25000 रुपये दिये हैं जिससे मैंने अपने परिवार के लिए घर के लिए जरूरतमंद चीजें खरीदी हैं। उन्होंने बताया कि ” लॉकडाउन के चलते काम न होने से मेरी रोजी-रोटी रुक सी गई थी और सारी चीजें उधार लेना पड़ती थी। मुझे वो उधार चुकाना है। मुझे नहीं पता कि मैं कैसे गुजारा करूंगा।”

भास्करन चेन्नई सुपरकिंग्स से भी जुड़े हुए हैं। वो टीम के आधिकारिक मोची हैं। मैच के दिन वो खिलाड़ियों और मैच अधिकारियों के कमरों के पास काम करते हैं। जहां वो आईपीएल के दौरान रोजाना 1000 रुपये कमा लेते हैं। आम दिनों में भास्करन 500 रुपये कमाते हैं लेकिन इस बार कोरोना वायरस (Coronavirus) के लॉकडाउन की वजह से उन्हें गहरा आर्थिक झटका लगा है।

भास्करन दिन के 150 रुपये भी नहीं कमा पा रहे थे और जब इसके बारे में इरफान पठान को पता चला तो उन्होंने इस गरीब शख्स की मदद की। इरफान की मदद करने को लेकर एंकर रौनक ने अपने ट्वीटर पर पूरी जानकारी दी है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन