बर्मिंघम : इंग्लैंड के खिलाफ यहां चल रहे पहले टेस्ट में अच्छी वापसी करने वाले भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने कहा कि क्रिकेट के प्रति जुनून की बदौलत ही वह कुछ महीने पहले मैदान की बाहर की समस्याओं से उबरने में सफल रहे।

शमी ने कहा, ‘जीवन में और आपके परिवार में उतार चढ़ाव तो होता ही रहता है। लेकिन देश की तरफ से खेलने में आपके ऊपर जिम्मेदारी होती है और जब आप अपना काम अच्छी तरह करते हो, मुझे लगता है कि यह सर्वश्रेष्ठ चीज होती है। इसलिए मैं आज बहुत खुश हूं। देश के लिए खेलकर मैं हर गम भूल जाता हूं।’

बता दें कि शमी ने पहले टेस्ट के शुरूआती दिन 64 रन देकर दो विकेट चटकाये जबकि आर अश्विन ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 60 रन देकर चार खिलाड़ियों को आउट किया जिससे इंग्लैंड का स्कोर नौ विकेट पर 285 रन हो गया था।मोहम्मद शमी दक्षिण अफ्रीका दौरे पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 15 विकेट लेकर भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे थे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इंग्लैंड के खिलाफ विकेट लेने के बाद शमी ने कहा, ‘मैं खुद भी आज बहुत खुश हूं। मैंने इस चीज के लिये काफी कड़ी मेहनत की है।’ शमी ने कहा, ‘दक्षिण अफ्रीका का दौरा काफी समय पहले हुआ था और फिर मैदान के बाहर भी कुछ मुद्दे थे। मुझे इन सबसे भी जूझना पड़ा लेकिन मेरा प्रयास यही रहा कि मुझे जो सबसे ज्यादा पसंद है और जो मेरे लिए सबसे ज्यादा अहम है, उसे करते रहना होगा।’

216752 hasin jahan

उन्होंने कहा, ‘मैं अपना काम जारी रखना चाहता था। मेरे सामने कितनी भी मुश्किलें आएं, मैं सिर्फ क्रिकेट में अपना सर्वश्रेष्ठ करना चाहता था। इसका नतीजा आपके सामने है।’ अठाईस वर्षीय शमी पर कुछ महीने पहले उनकी पत्नी ने घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था।

हसीन ने हाल ही में शमी की सोशल मीडिया पर दो मार्कशीट, वोटर आईडी और ड्राइविंग लाइसेंस शेयर कर कहा कि शमी ने उम्र छिपाकर बीसीसीआई को धोखा दिया है। हसीन जहां ने कहा कि दो मार्कशीट पर अलग-अलग जन्मतिथि और वोटर आईडी व डीएल पर अलग-अलग डेट ऑफ़ बर्थ यह साफ करती है कि वे जालसाज हैं।

Loading...