उड़ीं हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच लगातार रिश्तें बिगड़ते गये. जिसका सबसे ज्यादा खामियाजा पाक कलाकारों को भुगतना पड़ा हैं. ऐसे में अब मशहूर गायक राहत फतेह अली खान ने कहा हैं कि वे दोनों देशों के बीच एक ‘प्यार का पुल’ बनाना चाहते हैं. जो कभी भी न टूटे.

उन्होंने कहा कि सितंबर 2016 में उड़ी हमले के बाद जो कुछ भी हुआ, वह ठीक नहीं हुआ. उन्हें उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच ‘प्यार का पुल’ कभी न टूटे. उन्होंने कहा कि खुदा ने चाहा तो वह जल्द ही भारत में प्रस्तुति देंगे. राहत ने लाहौर से आईएएनएस को फोन पर बताया, “मुझे उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच के मुद्दे सुलझ जाएंगे। जो हुआ वह बेहद खराब था.”

राहत ने हाल ही में भारतीय संगीतकार-गीतकार अनुपमा राग के साथ मिलकर एकल गीत ‘सांवरे’ तैयार किया है. नए गीत की आलोचना के सवाल पर उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि इसकी आलोचना की जाएगी”. इसी के साथ उन्होंने आगे कहा कि “कलाकारों का काम नहीं रोका जा सकता. हमने हमेशा प्यार का रास्ता चुना है. लेकिन कई बार कुछ लोग प्यार के इस पुल को तोड़ने की कोशिश करते हैं.

राहत को अपने नए गीत को अच्छी प्रतिक्रिया मिलने का तो इंतजार है ही, साथ ही वह अपने दिवंगत चाचा नुसरत फतेह अली खान को श्रद्धांजलि देने के लिए संगीत टूर पर जाने का भी इंतजार कर रहे हैं. उनका टूर अप्रैल में उत्तरी अमेरिका से शुरू होगा. और वे भारत भी आयेंगे.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें